समाजीकरण (socialization)🔥🔥

जैसे-जैसे मनुष्य जन्म लेने के बाद समाज के संपर्क में आता है उसमें सामाजिक चेतना और सामाजिक उत्तरदायित्व की भावना विकसित होने लगती है।
वह समाज द्वारा स्वीकृत परंपरा, मान्यता, आकांक्षा, मूल्य, आदर्श, संस्कृति आदि का अनुपालन करने लगता है।

परिभाषाएं 👉

जेम्स ड्रेवर के अनुसार,”सामाजिकरण वह प्रक्रिया है जिसके द्वारा व्यक्ति अपने सामाजिक पर्यावरण के साथ अनुकूलन करता है और इस प्रकार उस समाज का मान्य सहयोगी और कुशल सदस्य बन जाता है।”

ग्रीन के अनुसार,”सामाजिकरण वह प्रक्रिया है जिसके द्वारा बालक सांस्कृतिक विशेषताएं , आत्म गौरव और व्यक्तित्व को प्राप्त करता है।”

ओगबर्न के अनुसार,”समाजीकरण समूह और समाज के मानदंडों को सीखने की प्रक्रिया है।”

बोगार्ड्स के अनुसार,”समाजीकरण एक साथ रहना और काम सीखने की प्रक्रिया है।”

मैकियोनिस के अनुसार, “समाजी- करण एक आजीवन प्रक्रिया है जिसके द्वारा एक व्यक्ति समाज का उचित सदस्य बन जाता है और माननीय विशेषताओं का विकास करता है।”

समाजीकरण का प्रकार (types of socialization)🔥🔥

1. प्राथमिक सामाजिकरण (primary socialization) 🔥🔥

इसमें बालक का समाजी – करण
तत्कालिक परिवार, मित्र से प्रभावित होता है और भविष्य के सभी सामाजिक संबंधों का आधार बनता है।

2. द्वितीयक सामाजीकरण(secondary socialization) 🔥🔥

इसमें बालक उन व्यवहार या कौशल को सीखने की प्रक्रिया को दर्शाता है जो बड़े समाज के भीतर एक छोटे समूह के सदस्य के रूप में उपायुक्त है।

3. प्रत्याशात्मक सामाजीकरण (anticipathy socialization)🔥🔥

व्यक्ति भविष्य के पद , व्यवसाय और सामाजिक रिश्ते का पूर्वाभ्यास करता है।

4. पुन :समाजीकरण (re-socialization) 🔥🔥

पूर्ण व्यवहार पैटर्न और सजगता को छोड़ने की प्रक्रिया को संदर्भित करता है तथा नए लोगो व अनुभव के आधार पर परिवर्तन को स्वीकार करता है।

5. संगठनात्मक समाजीकरण (Oganizational socialization)🔥🔥

एक ऐसी प्रक्रिया जिसके द्वारा एक कर्मचारी अपने संगठनात्मक भूमिका ग्रहण करने के लिए आवश्यक ज्ञान और कौशल को सीखता है।

6. समूह समाजीकरण (group socialization) 🔥🔥

सहकर्मी समूह, पारिवारिक वातावरण के बजाय वयस्कता में उसके व्यक्तित्व और व्यवहार को प्रभावित करता है।

7. लैंगिक सामाजीकरण (gender socialization) 🔥🔥

लिंग के आधार पर उपयुक्त व्यवहार सीखना , लैंगिक सामाजिकरण है। इसमें लड़का लड़कों के गुण सीखता है और लड़कियां लड़कियों के गुण सीखती है।

8. जातीय सामाजिकरण(racial socialization)🔥🔥

एक बच्चा जातीय समूह के व्यवहार, धारणा ,मूल्य ,दृष्टिकोण को प्राप्त करता है।

समाजीकरण की 4 एजेंसियां 👉

1.परिवार
2.विद्यालय
3.सहकर्मी समूह
4.संचार मीडिया

समाजीकरण के तत्व (Factor of socialization)🔥🔥
1.परिवार
2.आयु समूह
3.पड़ोस
4.नातेदारी समूह
5.विद्यालय
6.खेलने का मैदान
7. जाति
8.समाज
9.भाषा
10.राजनीतिक संस्था
11.धार्मिक संस्था

✍️Notes by Shreya Rai 🙏

🌹सामाजिकरण (socialization )
➖➖➖➖➖➖➖➖

🤟 जैसे-जैसे मनुष्य जन्म लेने के बाद समाज के संपर्क में आता है उसमें सामाजिक चेतना और सामाजिक उत्तरदायित्व की भावना विकसित होने लगती है
🤟वह समाज द्वारा स्वीकृत परंपरा, मान्यता, आकांक्षा ,मूल्य ,आदर्श, संस्कृति आदि का अनुपालन करने लगता है

👉 जेम्स ड्रेवर➖
सामाजिकरण वह प्रक्रिया है जिसके द्वारा व्यक्ति अपने सामाजिक पर्यावरण के साथ अनुकूलन करते हैं और इस प्रकार के उस समाज का मान्य सहयोगी और कुशल सदस्य बन जाता है

👉 ग्रीन के अनुसार➖ समाजीकरण वा प्रक्रिया है जिसके द्वारा बालक सांस्कृतिक विशेषताएं और आत्म गौरव और व्यक्तित्व को प्राप्त करता है

👉ओगबर्न के अनुसार➖
समाजीकरण समूह और समाज के मानदंडों को सीखने की प्रक्रिया है

👉 मैकयोनीस के अनुसार➖
सामाजिकरण एक आजीवन प्रक्रिया है जिसके द्वारा एक व्यक्ति समाज का उचित सदस्य बन जाता है और मानवीय विशेषताओं का विकास करता है

🌹Types of socialization 🌹

1) प्राथमिक समाजीकरण(primary socialization)

तात्कालिक परिवार मित्र से प्रभावित है और भविष्य के सभी सामाजिक संबंधों का आधार बनता है

2) द्वितीयक सामाजिकरण(secondary socialization)

बालक उन व्यवहार या कौशल को सीखने की प्रक्रिया को दर्शाता है जो बड़े समाज के भीतर एक छोटे समूह के सदस्यों के रूप में उपयुक्त है विद्यालय, पार्क, पड़ोसी

3) प्रत्याशात्मक सामाजिकरण(anticipatory socialization)

व्यक्ति भविष्य के पद व्यवसाय और सामाजिक रिश्ते का पूर्वाभ्यास करता है

4) पुनः सामाजिकरण(Re:socialization)

पूर्ण व्यवहार पैटर्न और छोड़ने की प्रक्रिया का संदर्भित करता है तथा नए लोगों और अनुभव के आधार पर परिवर्तन को स्वीकार करता है

5) संगठनात्मक समाजीकरण (organization socialization)

एक ऐसी प्रक्रिया जिसके द्वारा एक कर्मचारी अपने संगठनात्मक भूमिका ग्रहण करने के लिए आवश्यक ज्ञान और कौशल सकता है

6) समूह सामाजिकरण(group socialization)

सहकर्मी,समूह ,पारिवारिक, वातावरण के बजाय व्यवस्था में उसके व्यक्तित्व और व्यवहार को प्रभावित करता है

7) लैंगिक सामाजिकरण(gender socialization)

लिंग के आधार पर उपयोग व्यवहार सीखना लैंगिक सामाजिकरण है

जैसे ➖लड़का -लड़का का गुण सीखे,लड़की -लड़की का गुण सीखे

8) जातीय समीकरण(Racial socialization)

एक बच्चा चाहती है समूह के व्यवहार, धारणा ,मूल्य, दृष्टिकोण को प्राप्त करता है

👉 समाजीकरण के चार एजेंसी➖
1) परिवार
2) विद्यालय
3) सहकर्मी
4) संचार मीडिया

👉Factor of socialization (सामाजिकरण के तथ्य)

1) परिवार
2)आयु
3)समूह
4) परोसी
5) नातेदारी समूह
6)विद्यालय
7)खेल का मैदान
8)जाति
9) समाज
10)भाषा
11)राजनीतिक संस्थाएं
12) धार्मिक संस्थाएं

🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹

Notes by:—sangita bharti✍️🙏

🌺🌺 समाजीकरण ($ocialization)🌺🌺

🌸समाजीकरण की प्रक्रिया
(Process of socialization)

🏵️जैसे-जैसे मनुष्य जन्म लेने के बाद समाज के संपर्क में आता है उसमें सामाजिक चेतना और सामाजिक उत्तरदायित्व की भावना की विकसित होने लगती है

🏵️वह समाज के द्वारा स्वीकृत परंपरा मान्यता आकांक्षा मूल फादर संस्कृति आदि का अनुपालन करने लगता है।

🌻जेम्स ड्राइवर के अनुसार-

🏵️सामाजिकरण व प्रक्रिया है जिसके द्वारा व्यक्ति अपने सामाजिक वातावरण के साथ अनुकूलन करता है और उस समाज का मान्य सहयोगी और कुशल सदस्य बन जाता है।

🌻ग्रीन के अनुसार-
🌸सामाजिकरण वा प्रक्रिया है जिसके द्वारा बालक में सांस्कृतिक विशेषताएं आत्म गौरव और व्यक्तित्व को प्राप्त करता है।

🌻ओगवर्न के अनुसार
🌸सामाजिकरण समूह और समाज के मानदंडों को सीखने की प्रक्रिया है।

🌻बोगार्ड्स के अनुसार-
🌸सामाजीकरण एक साथ रहना और काम सीखने की प्रक्रिया है।

🌻मैकियोनिस के अनुसार-
🌸सामाजिकरण एक आजीवन प्रक्रिया है जिसके द्वारा एक व्यक्ति समाज का उचित सदस्य बन जाता है और मानवीय सभी विशेषताओं का विकास करता है।

🌸🌸सामाजिकरण के प्रकार-🌸🌸
(Types of socialization)

🌻प्राथमिक सामाजिकरण
(परिवार, दोस्त)
🌸तात्कालिक परिवार और मित्रों से प्रभावित होता है और भविष्य के सभी सामाजिक रिश्तो का संबंधों का आधार बनता है।

🌻द्वितीयक सामाजिकरण-
🌸बालक कौन व्यवहार या कौशल को सीखने की प्रक्रिया को दर्शाता है जो बड़े समाज के भीतर एक छोटे समूह के सदस्य के रूप में उपयुक्त है।

🌻प्रत्याशात्मक सामाजिकरण-
🌸व्यक्ति भविष्य के बाद व्यवसाय और सामाजिक रिश्तो का पूर्वाभास करता है।

🌸अनुभव के आधार पर परिवर्तन को स्वीकार करता है।

🌻संगठनात्मक सामाजिकरण-

🌸एक ऐसी प्रक्रिया जिसके द्वारा एक कर्मचारी अपने संगठनात्मक भूमिका ग्रहण करने के लिए आवश्यक ज्ञान और कौशल सीखता है (आना बैठना बोलना करना) में भूमिका।

🌻समूह सामाजिकरण-
🏵️यह वह प्रक्रिया है जो किसी व्यक्ति के सहकर्मी समूह,पारिवारिक वातावरण के बजाय व्यस्कता में उसके व्यक्तित्व और व्यवहार को प्रभावित करता हैं।

🌻लैंगिक सामाजिकरण-

🏵️लिंग के आधार पर उपयुक्त व्यवहार सीखना लैंगिक सामाजिकरण कहलाता है।
लड़की-लड़की
लड़का-लड़का

🌻जातीय समाजीकरण-
🏵️एक बच्चा जाति समूह की अवधारणा मूल्य दृष्टिकोण को प्राप्त करता है।
Thank you 🌷🌷
🥀🥀Written by shikhar pandey🥀🥀

🌀 सामाजीकरण ( socialization) 🌀

जैसे-जैसे मनुष्य जन्म लेने के बाद समाज के संपर्क में आता है उसमें सामाजिक चेतना और सामाजिक उत्तरदायित्व की भावना विकसित होने लगती है वह समाज द्वारा स्वीकृत परंपरा मान्यता आकांक्षा मूल्य आदर्श संस्कृति आदि का अनुपालन करने लगता है।

✨ जेम्स ड्रेवर के अनुसार➖
समाजीकरण वह प्रक्रिया है जिसके द्वारा व्यक्ति अपने सामाजिक पर्यावरण के साथ अनुकूलन करता है और इस प्रकार और समाज सामान्य सहयोगी और कुशल सदस्य बन जाता है।

✨ ग्रीन के अनुसार ➖
समाजीकरण वह प्रक्रिया है जिसके द्वारा बालक सांस्कृतिक विशेषताएं आत्म गौरव और व्यक्तित्व को प्राप्त करता है।

✨ ओगबर्न के अनुसार ➖
सामाजिकरण समूह और समाज के मापदंडों को सीखने की प्रक्रिया है।

✨ बोगर्डस के अनुसार ➖
सामाजिकरण एक साथ रहना और काम सीखने की प्रक्रिया है।

✨ मैकियोनिस के अनुसार ➖
सामाजिकरण एक आजीवन प्रक्रिया है जिसके द्वारा एक व्यक्ति समाज का उचित सदस्य बन जाता है और मानवीय विशेषताओं का विकास करता है।

💞 Types of socialization ➖

1️⃣ प्राथमिक सामाजीकरण➖
तत्कालिक परिवार मित्र से प्रभावित होता है और भविष्य के सभी सामाजिक संबंधों का आधार बनता है।

2️⃣ द्वितीयक सामाजीकरण➖
बालक उन व्यवहार या कौशल को सीखने की प्रक्रिया को दर्शाता है जो बड़े समाज के भीतर एक छोटे समूह के सदस्य के रूप में उचित हैं जैसे विद्यालय।

3️⃣ प्रत्याशात्मक सामाजीकरण➖
व्यक्ति भविष्य के बाद व्यवसाय और सामाजिक रिश्ते का पूर्वाभ्यास करता है।

4️⃣ पुनः सामाजीकरण➖
पूर्ण व्यवहार पैटर्न और सजगता को छोड़ने की प्रक्रिया को संदर्भित करता है तथा नए लोगों को अनुभव के आधार पर परिवर्तन को स्वीकार करता है।

5️⃣ संगठनात्मक सामाजीकरण➖
एक ऐसी प्रक्रिया जिसके द्वारा एक कर्मचारी अपनी संगठनात्मक भूमिका ग्रहण करने के लिए आवश्यक ज्ञान और कौशल सीखता है।

6️⃣ समूह सामाजीकरण➖
सहकर्मी समूह है पारिवारिक वातावरण के बजाय वयस्कता मैं उनके व्यक्तित्व और व्यवहार को प्रभावित करता है।

7️⃣ लैंगिक सामाजीकरण➖
लिंग के आधार पर उचित व्यवहार सीखना लेंगे सामाजीकरण है।

8️⃣ जातीय सामाजीकरण➖
एक बच्चा जातीय समूह के व्यवहार धारणा मूल्य दृष्टिकोण को प्राप्त करता है।

💞 सामाजीकरण की 4 एजेंसी ➖
1️⃣ परिवार

2️⃣ विद्यालय

3️⃣ सहकर्मी समूह

4️⃣ संचार मीडिया

💫 सामाजीकरण के तथ्य ➖

1. परिवार
2. आयु समूह
3. पड़ोस
4. नातेदारी समूह
5. विद्यालय
6. खेल का मैदान
7. जाति
8. समाज
9. भाषा
10. राजनीतिक संस्था
11. धार्मिक संस्था

📝 Notes by ➖
✍️ Gudiya Chaudhary

🏵️ सामाजिकरण (socialization) 🏵️
👉 जैसे-जैसे मनुष्य जन्म लेने के बाद समाज के संपर्क में आता है उसमें सामाजिक चेतना, सामाजिक उत्तरदायित्व, की भावना विकसित होने लगती है वह समाज द्वारा स्वीकृत परंपरा, मान्यता, आकांक्षा, मूल्य, आदर्श, संस्कृति आदि का अनुपालन करने लगता है।
◾ James drawer के अनुसार~सामाजिकरण वह प्रक्रिया है जिसके द्वारा व्यक्ति अपने सामाजिक पर्यावरण के साथ अनुकूलन करता है और इस प्रकार उस समाज का मान सहयोगी और कुशल सदस्य बन जाता है।
◾ ग्रीन के अनुसार~सामाजिकरण वह प्रक्रिया है जिसके द्वारा बालक सांस्कृतिक विशेषताएं आत्म गौरव और व्यक्तित्व को प्राप्त करता है।
◾ ओगबर्न के अनुसार~सामाजिकरण समूह और समाज के मानदंडों को सीखने की प्रक्रिया है।
◾ बोगार्ड्स के अनुसार~सामाजिकरण एक साथ रहने और काम सीखने की प्रक्रिया है।
◾ मैकेयोंनिस के अनुसार~सामाजिकरण एक आजीवन प्रक्रिया है जिसके द्वारा एक व्यक्ति समाज का उचित सदस्य बन जाता है और मानवीय विशेषताओं का विकास करता है।
🔹 Types of socialization 🔸
1️⃣ प्राथमिक सामाजिकरण (primary socialization)
👉तत्कालिक परिवार, मित्र से प्रभावित होता है और भविष्य के सभी सामाजिक संबंधों का आधार बनता है।
2️⃣ द्वितीयक सामाजिकरण (secondary socialization)
👉 बालक उन व्यवहार या कौशल को सीखने की प्रक्रिया को दर्शाता है जो बड़े समाज के भीतर एक छोटे समूह के सदस्य के रूप में उपयुक्त हो जैसे विद्यालय, पार्क, पड़ोस इत्यादि।
3️⃣ प्रत्याशातमक सामाजिकरण (anticipatory socialization)
👉 व्यक्ति भविष्य के पद, व्यवसाय और सामाजिक रिश्ते का पूर्वाभ्यास करता है।
4️⃣ पुनः सामाजिकरण (re-socialization)
👉पूर्ण व्यवहार पैटर्न और सजगता को जोड़ने की प्रक्रिया को संदर्भित करता है तथा नए लोगों व अनुभव के आधार पर परिवर्तन को स्वीकार करता है।
5️⃣ संगठनात्मक सामाजिकरण (organizational socialization)
👉एक ऐसी प्रक्रिया जिसके द्वारा एक कर्मचारी अपनी संगठनात्मक भूमिका ग्रहण करने के लिए आवश्यक ज्ञान और कौशल सीखता है।
6️⃣ समूह सामाजिकरण (group socialization)
👉 सहकर्मी समूह, पारिवारिक वातावरण के बजाय वयस्कता मे उसके व्यक्तित्व और व्यवहार को प्रभावित करता है।
7️⃣ लैंगिक सामाजिकरण (gender socialization)
👉 लिंग के आधार पर उपयुक्त व्यवहार सीखना लैंगिक सामाजिकरण है जैसे लड़का-लड़का जैसा व्यवहार सीखें और लड़की -लड़की जैसा व्यवहार सीखें।
8️⃣ जातीय सामाजिकरण (Racial socialization)
👉 एक बच्चा जातीय समूह के व्यवहार धारणा, मूल्य, दृष्टिकोण को प्राप्त करता है।
◾ सामाजिकरण की चार एजेंसी:~
1️⃣ परिवार
2️⃣ विद्यालय
3️⃣ सहकर्मी समूह
4️⃣ संचार मीडिया
◾ Factor of socialization (सामाजिकरण के तत्व)
1️⃣ परिवार
2️⃣ आयु समूह
3️⃣ पड़ोस
4️⃣ नातेदारी समूह
5️⃣ विद्यालय
6️⃣ खेल का मैदान
7️⃣ जाति
8️⃣ समाज
9️⃣ भाषा
🔟 राजनीतिक संस्थाएं
11-धार्मिक संस्थाएं
🔹🔸🔹
🏵️🌸🏵️✍️ Notes by ☞Vinay Singh Thakur🏵️🌸🏵️

🎯सामाजिकरण(socialization)🌈

जैसे-जैसे मनुष्य जन्म लेने के बाद समाज के संपर्क में आता है तो उसमें सामाजिक चेतना और सामाजिक उत्तरदायित्व की भावना विकसित होने लगती है।

वह समाज द्वारा स्वीकृत परंपरा मान्यता आकांक्षा मूल्य आदर्श संस्कृति आदि का अनुपालन करने लगता है।
मतलब बच्चा जब सामाजिक परिवेश में आते है तो वह सामाजिक गुणों, महत्वो इत्यादि को समझने लगता है और समाज में घुल मिल जाता है तथा समाज के मर्यादाओं का अनुपालन करते हैं।

💫जेम्स ड्रेवर….. के अनुसार…..

समाजीकरण व प्रक्रिया है जिसके द्वारा व्यक्ति अपने सामाजिक पर्यावरण के साथ अनुकूलन करता है और इस प्रकार उस समाज का मान्य, सहयोगी और कुशल सदस्य बन जाता है।

⚡ग्रीन के अनुसार……..

सामाजिकरण वह प्रक्रिया है जिसके द्वारा बालक सांस्कृतिक विशेषताएं आत्म गौरव और व्यक्तित्व को प्राप्त करता है।

💐ओगबर्न के अनुसार………

समाजीकरण समूह और समाज के मानदंडों को सीखने की प्रक्रिया है।

🌟बोगार्डस के अनुसार……..

सामाजिक एक साथ रहना और काम करने की प्रक्रिया है।

🌀मैकियोनिस के अनुसार……..

समाजीकरण एक आजीवन प्रक्रिया है जिसके द्वारा एक व्यक्ति समाज का उचित सदस्य बन गया और मानवीय विशेषताओं का विकास करता है।

🌾समाजीकरण के प्रकार(types of socialization)…..

⭐(1) प्राथमिक सामाजिकरण… (primary socialization)

इसमें बच्चा जिस परिवार में जन्म लेता है तथा वह जिस समूह में खेलते हैं मतलब…
तत्कालिक परिवार/ मित्र से प्रभावित होता है और भविष्य में सभी सामाजिक संबंधों का आधार बढ़ता है।

🌼द्वितीयक समाजीकरण (secondary socialization)…

बालक उन व्यवहार या कौशल को सीखने की प्रक्रिया को दर्शाता है जो बड़े समाज के भीतर एक छोटे समूह के सदस्य के रूप में उपयुक्त है इसमें विद्यालय ,पार्क, पड़ोसी, इत्यादि इस समय बच्चे विद्यालय से आस-पड़ोस से सीखते हैं तथा वह अपने व्यवहार में परिवर्तन लाता है।

🌼प्रत्याशात्मक सामाजिकरण…….

जिसमें व्यक्ति भविष्य के पद व्यवसाय और सामाजिक रिश्ते का पूर्वाभ्यास करता है जैसे व्यक्ति भविष्य के पदों के लिए चुनाव में सम्मिलित होते है। चाहे उनका परिणाम कुछ भी क्यो ना हो

💮पुनः सामाजिकरण…….

पूर्व व्यवहार पैटर्न और सजगता को छोड़ने की प्रक्रिया को संदर्भित करता है तथा नये लोगों वह अनुभवों के आधार पर परिवर्तन को स्वीकार करता है।

🌷संगठनात्मक समाजीकरण….

एक ऐसी प्रक्रिया जिसके द्वारा एक कर्मचारी अपने संगठनात्मक भूमिका ग्रहण करने के लिए आवश्यक ज्ञान और कौशल सकता है।

🌈समूह सामाजिकरण……

सहकर्मी समूह, परिवार वतावरण के बजाय व्यस्कता में उसके व्यक्तित्व और व्यवहार को प्रभावित करता है।

🌴लैंगिक सामाजिकरण……

लिंग के आधार पर उपयुक्त व्यवहार चिकन और लैंगिक सामाजिकरण है जैसे- लड़का – लड़का के गुण सीखते हैं तथा लड़की- लड़की के गुण सीखते हैं।

💐जातीय समाजीकरण …..

एक बच्चा जातीय समूह के व्यवहार धरना मूल्य दृष्टिकोण को प्राप्त करता है।

🌼समाजीकरण की 4 एजेंसी……
(1) परिवार
(2)विद्यालय
(3)सहकर्मी समूह
(4)संचार मीडिया
इत्यादि यह सभी होते हैं जो कि बच्चे का विकास इन्हीं के माध्यम से होता है।

💮सामाजिकरण के तत्व

परिवार ,आयु सीमा, पड़ोस, नातेदारी, विद्यालय,खेल का, मैदान ,जाति, समाज, समूह, भाषा, राजनीतिक संस्था, धार्मिक संस्था इत्यादि यह सभी व्यक्ति के सामाजिक विकास में महत्वपूर्ण है।

💫🎯🌾🙏Notes by-SRIRAM PANJIYARA 🌈🌸💥🌺🙏

🔆 समाजीकरण Socialization 🔆
जैसे-जैसे मनुष्य जन्म लेने के बाद समाज के संपर्क में आता है उसमें सामाजिक चेतना और सामाजिक उत्तरदायित्व की भावना विकसित होने लगती है |
वह समाज द्वारा स्वीकृत परंपरा मान्यता आकांक्षा मूल्य आदर्श संस्कृति आदि का अनुपालन करने लगता है |
कोई व्यक्ति सामाजिक सांस्कृतिक क्षेत्र में प्रवेश करता है और विभिन्न समूह के सदस्य बनता है और समाज के नियमों और मानदंडो का पालन करता है समाज के साथ अंत:क्रिया करता है एक इंसान अलग-अलग प्रकार का समाजीकरण करता है |

जेम्स ड्रेवर के अनुसार :➖ समाजीकरण की प्रक्रिया जिसके द्वारा व्यक्ति अपने सामाजिक पर्यावरण के साथ अनुकूलन करता है और इस प्रकार समाज का मान्य सहयोगी और कुशल सदस्य बन जाता है |

ग्रीन के अनुसार ➖ समाजीकरण वह प्रक्रिया है जिसके द्वारा बालक सांस्कृतिक विशेषताएं आत्म गौरव और व्यक्तित्व को प्राप्त करता है |

ओगबर्न के अनुसार ➖ समाजीकरण समूह और समाज के मानदंडों को सीखने की प्रक्रिया है |

बोगार्डस के अनुसार ➖ समाजीकरण की एक साथ रहना और काम सीखने की प्रक्रिया है |

मैंकियोनिस के अनुसार ➖ समाजीकरण एक आजीवन प्रक्रिया है जिसके द्वारा एक व्यक्ति समाज का उचित सदस्य बन जाता है और मानवीय विशेषताओं का विकास करता है |

🔥समाजीकरण के प्रकार :- ( type of socialization) ➖

🌀प्राथमिक समाजीकरण (Primary socialization) ➖ समाजीकरण की शुरुआत जब बच्चा जन्म लेता है परिवार मित्र ऐसे मित्र जो साथ रहते हैं पास है तात्कालिक परिवार / मित्र से प्रभावित होता है और भविष्य के सभी सामाजिक संबंधों का आधार बनता है |

🌀द्वितीयक समाजीकरण (Secondary socialization) ➖ बालक उन व्यवहार या कौशल को सीखने की प्रक्रिया को दर्शाता है जो बड़े समाज के भीतर एक छोटे समूह के सदस्य के रूप में उपयुक्त है | जैसे विद्यालय पड़ोस पार्क |

🌀प्रत्याशात्मक समाजीकरण (Anticipatory socialization) ➖ व्यक्ति भविष्य के पद व्यवसाय और सामाजिक रिश्ते का पूर्वाभ्यास करता है |

🌀पुन: समाजीकरण (Re-socialization) ➖ पूर्व व्यवहार पैटर्न और सजगता को छोड़ने की प्रक्रिया को संदर्भित करता है तथा नए लोगों व अनुभव के आधार पर परिवर्तन को स्वीकार करता है |

🌀संगठनात्मक समाजीकरण (Organisational socialization) ➖ यह ऐसी प्रक्रिया है जिसके द्वारा एक कर्मचारी अपनी संगठनात्मक भूमिका ग्रहण करने के लिए आवश्यक ज्ञान और कौशल सीखता है |

🌀समूह समाजीकरण (Group socialization) ➖ सहकर्मी समूह परिवारिक वातावरण के बजाय वयस्कता में उसके व्यक्तित्व और व्यवहार को प्रभावित करता है |

🌀लैंगिक समाजीकरण (Gender socialization)➖ लिंग के आधार पर उपयुक्त व्यवहार सीखना लैंगिक समाजीकरण है लड़को के साथ लड़कों जैसा और लड़की के साथ लड़की जैसा

🌀जातीय समाजीकरण ( Racial socialization)
➖ एक बच्चा जातीय समूह के व्यवहार धरणा मूल्य दृष्टिकोण को प्राप्त करता है |

🔥🔥समाजीकरण की चार एजेंसियां :- (Agency) ➖
1. – परिवार
2. – विद्यालय
3. – सहकर्मी समूह
4. – संचार वीडियो
🔥🔥समाजीकरण की एक महत्वपूर्ण तत्व :- (factor of socialization) ➖
1. – परिवार
2.- आयु समूह
3.- पड़ोस
4.- नातेदारी समूह
5.- विद्यालय
6.- खेल का मैदान
7.- जाति
8.-समाज / समूह
9.- भाषा
10- राजनीतिक संस्थाएं
11.-धार्मिक संस्थाएं

Notes by ➖Ranjana sen

🌼🌼सामाजीकरण🌼🌼
(Socialization)

🌼 जैसे-जैसे मनुष्य जन्म लेने के बाद समाज में संपर्क में आता है ,उसमें सामाजिक चेतना और सामाजिक उत्तरदायित्व की भावना विकसित होने लगते हैं
🌼 वह समाज द्वारा स्वीकृत परंपरा, मान्यता ,आकांक्षा ,आदर्श ,संस्कृति आदि का अनुपालन करने लगता है

🌼🌼जेम्स ड्रेवर के अनुसार— सामाजिकरण वह प्रक्रिया है जिसके द्वारा व्यक्ति अपने सामाजिक पर्यावरण के साथ अनुकूलन करता है और इस प्रकार उस समाज का मान्य सहयोगी और कुशल सदस्य बन जाता है

🌼🌼ग्रीन के अनुसार —समाजीकरण वह प्रक्रिया है जिसके द्वारा बालक संस्कृतिक विशेषताओं आत्म गौरव और व्यक्तित्व को प्राप्त करता है

🌼🌼 ओग् बर्न के अनुसार —समाजीकरण समूह और समाज के मानदंडों को सीखने की प्रक्रिया है

🌼🌼बोगार्डस के अनुसार —-सामाजिकरण एक साथ रहना और काम सीखने की प्रक्रिया है

🌼🌼 मैकियोनिस के अनुसार— समाजीकरण एक अजीवन् प्रक्रिया है जिसके द्वारा एक व्यक्ति समाज का उचित सदस्य बन जाता है और मानवीय विशेषताओं का विकास करता है

🌼🌼Types of socialization 🌼🌼

🌼🌼1.प्राथमिक समाजीकरण(primary socialization) –तात्कालिक परिवार मित्र और प्रभावित होता है और भविष्य के सभी सामाजिक संबंधों का आधार बनता है
🌼🌼2.वित्तीय सामाजिकरण ( secondary socialization) –बालक और व्यवहार या कौशल सीखने की प्रक्रिया को दर्शाता है जो बड़े समाज के भीतर एक छोटे समूह के सदस्य के रूप में उपयुक्त हो!
जैसे-विद्यालय, पार्क ,पड़ोसी ,

🌼🌼3.प्रत्याशात्मक सामाजिकरण ( anticipatory socialization) — व्यक्ति भविष्य के पद,व्यवसाय और सामाजिक रिश्ते का पूर्व अभ्यास करता है

🌼🌼4.पुनः समाजीकरण ( re- socialization)–पूर्व व्यवहार के पैटर्न छोड़ने की प्रक्रिया को संदर्भित करता है तथा नए लोगों व अनुभव के आधार पर परिवर्तन को स्वीकार करता है

🌼🌼5.संगठनात्मक सामाजिकरण ( organizational socialization)–एक ऐसी प्रक्रिया जिसके द्वारा एक कर्मचारी अपनी संगठनात्मक भूमिका ग्रहण करने के लिए आवश्यक ज्ञान और कौशल सीखता है

🌼🌼6. समूह समाजीकरण (group socialization)–सहकर्मी समूह पारिवारिक वातावरण की बजाय इस व्यवसाय में उसके वयक्तितव और व्यवहार को प्रभावित करता है

🌼🌼7. लिंग के आधार पर ( gender socialization)– लिंग के आधार पर उपयुक्त व्यावहारिक सामाजिकरण है

🌼🌼8. जातीय समाजीकरण — एक बच्चा जातिय समूह के व्यवहार दृष्टिकोण को प्राप्त करता है

🌼🌼🌼🌼🌼 समाजीकरण की 4 agency (एजेंसी)
🌼1.परिवार
🌼2.विद्यालय
🌼3. सहकर्मी
🌼4.समूह मीडिया

🌼🌼facter of socialization 🌼🌼🌼1. परिवार
🌼2. आयुसमूह
🌼3.पड़ोस
🌼4.नातेदारी समूह
🌼5.विद्यालय
🌼6.खेल का मैदान
🌼7. जाति
🌼8.समाज
🌼9.भाषा
🌼10.राजनीतिक संस्था
🌼11.धार्मिक संस्था

🌼🌼by manjari soni🌼🌼

💢 समाजीकरण💢
(Socialization)

👉🏼जैसे-जैसे मनुष्य जन्म लेने के बाद समाज में संपर्क में आता है उसमें सामाजिक चेतना और सामाजिक उत्तरदायित्व की भावना विकसित होने लगती है।

👉🏼बच्चा समाज द्वारा स्वीकृत परंपरा ,मान्यता ,आकांक्षा, मूल्य, आदर्श, संस्कृति आदि का अनुपालन करने लगता है।

जेम्स ड्रेवर के अनुसार➖
समाजीकरण की प्रक्रिया जिसके द्वारा व्यक्ति अपने सामाजिक पर्यावरण के साथ अनुकूलन करता है इस प्रकार उस समाज का मान्य सहयोगी और कुशल सदस्य बन जाता है।

🌺 ग्रीन के अनुसार➖
सामाजिकरण व प्रक्रिया है जिसके द्वारा बालक संस्कृति विशेषताएं आत्म गौरव और व्यक्तित्व को प्राप्त करता है।

🌺ओगबर्न के अनुसार➖ सामाजिकरण समूह और समाज में मानदंडों को सीखने की प्रक्रिया है।

🌺 बागार्डस के अनुसार➖ सामाजिकरण एक साथ रहना और काम सीखने की प्रक्रिया है।

🌺मैकियोनिस के अनुसार➖सामाजिकरण एक अधिगम प्रक्रिया है जिसके द्वारा एक व्यक्ति समाज का उचित सदस्य बन जाता है और मानवीय विशेषताओं का विकास करता है।

💢 समाजीकरण के प्रकार💢
(Types of socialization)

🌺 प्राथमिक सामाजिकरण➖
तत्कालीन परिवार मित्र से प्रभावित होता है और भविष्य के सभी सामाजिक संबंधों का आधार बनता है।

🌺 द्वितीयक सामाजिकरण➖बालक उन व्यवहार या कौशल को सीखने की प्रक्रिया को दर्शाता है जो बड़े समाज के भीतर एक छोटे समूह के सदस्य के रूप में उपयुक्त हो जैसे विद्यालय, पार्क पड़ोस ।

🌺 प्रत्याशात्मक सामाजिकरण➖ व्यक्ति भविष्य के पद व्यवसाय और सामाजिक रिश्तो का पूर्वा अभ्यास करता है।

🌺 पुनः सामाजिकरण➖पूर्ण व्यवहार पैटर्न और सजगता को छोड़ने की प्रक्रिया को संदर्भित करता है तथा नए लोगों का अनुरूप के आधार पर परिवर्तन को स्वीकार करता है।

🌺 संगठनात्मक सामाजीकरण➖एक ऐसी प्रक्रिया जिसके द्वारा एक कर्मचारी अपने संगठनात्मक भूमिका ग्रहण करने के लिए आवश्यक ज्ञान और कौशल सीखता है।

🌺 समूह सामाजीकरण➖सहकर्मी समूह पारिवारिक वातावरण के बजाय वयस्कता में उसके व्यक्तित्व और व्यवहार को प्रभावित करता है।

🌺 लैंगिक सामाजिकरण➖ लिंग के आधार पर उपयुक्त व्यवहार सीखना लैंगिक सामाजीकरण है।

🌺 जातीय सामाजीकरण➖ एक बच्चा जातीय समूह के व्यवहार, धारणा, मूल्य और दृष्टिकोण को प्राप्त करता है।

🦚 समाजीकरण के चार एजेंसियां➖

1️⃣ परिवार
2️⃣ विद्यालय
3️⃣ संचार मीडिया
4️⃣ सहकर्मी समूह

🔥 समाजीकरण की एक महत्वपूर्ण तत्व➖

1-परिवार
2-आयु समूह
3-पड़ोस
4-नातेदारी समूह
5-विद्यालय
6-खेल का मैदान
7-जाति
8-समाज /समूह
9-भाषा
10-राजनीतिक संस्थाएं
11-धार्मिक संस्थाएं

🖊️🖊️📚📚 Notes by…. Sakshi Sharma….

🔆 समाजीकरण 🔆

समाजीकरण मानव विकास में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है जैसे-जैसे मनुष्य समाज के संपर्क में आता है उसमें सामाजिक चेतना ,,सामाजिक उत्तरदायित्व,,की भावना अधिक विकसित होने लगती है |

व्यक्ति समाज द्वारा स्वीकृत परंपरा ,मान्यता ,आकांक्षा, मूल्य, आदर्श ,संस्कृति आदि का पालन करने लगता है |

जब व्यक्ति किसी सामाजिक सांस्कृतिक परिवेश में प्रवेश करता है तो उसके नियमों और मानदंडों का भी पालन करता है और समाज के साथ भिन्न-भिन्न प्रकार की अंतः क्रिया करता है और इस प्रकार से समाजीकरण का निर्माण होता है |

☀ समाजीकरण की परिभाषाएं➖

🎯 , जेम्स ड्रेवर के अनुसार ➖

” समाजीकरण वह प्रक्रिया है जिसके द्वारा व्यक्ति अपने सामाजिक पर्यावरण के साथ अनुकूलन करता है और इस प्रकार उस समाज का मान्य सहयोगी और कुशल सदस्य बन जाता है |

🎯 ग्रीन के अनुसार ➖

“समाजीकरण व प्रक्रिया जिसके द्वारा बालक सांस्कृतिक विशेषताएं ” आत्म गौरव और व्यक्तित्व” को प्राप्त करना है “|

🎯 ओगबर्न के अनुसार➖

” समाजीकरण समूह और समाज के मानदंडों को सीखने की प्रक्रिया है | ”

🎯बोगार्ड्स के अनुसार ➖

” सामाजिकरण एक साथ रहना और काम सीखने की प्रक्रिया है ” |

🎯मैकोनियस के अनुसार ➖

” समाजीकरण एक अजीबन प्रक्रिया है जिसके द्वारा एक व्यक्ति समाज का सदस्य बन जाता है और मानवीय विशेषताओं का विकास करता है ” |

💫 समाजीकरण के प्रकार ➖

🎯 प्राथमिक समाजीकरण ( Primary Socialization)

इस प्रकार के समाजीकरण में परिवार ,दोस्त आदि आते हैं इसमें बच्चा तत्कालिक परिवार और मित्र से प्रभावित होता है और भविष्य के सभी सामाजिक संबंधों का आधार बनता है |

🎯 द्वितीयक समाजीकरण ( Secondry Socialization) ➖

यह प्राथमिक समाजीकरण के बाद आता है जिसमें बालक उन व्यवहार या कौशल को सीखने की प्रक्रिया को दर्शाता है जो बड़े समाज के बीच एक छोटे समूह के सदस्य के रूप में उपयुक्त होते हैं |
इसके अन्तर्गत विद्यालय, पार्क, पड़ोसी आदि आते हैं |

🎯 प्रत्याशात्मक समाजीकरण (Anticipatory Socialization) ➖

व्यक्ति भविष्य के पद व्यवस्था और सामाजिक रिश्तों का पूर्वाभ्यास करता है |

🎯पुनःसमाजीकरण(Re-Socilization ) ➖

पूर्ण व्यवहार पैटर्न और सजगता को छोड़ने की प्रक्रिया को संदर्भित करता है तथा नए लोगों व अनुभव के आधार पर अनुभव को स्वीकार करता है |

🎯 संगठनात्मक समाजीकरण(Organizational Socialization) ➖

यह एक ऐसी प्रक्रिया है जिसके द्वारा एक कर्मचारी अपनीं संगठनात्मक भूमिका ग्रहण करने के लिए आवश्यक ज्ञान और कौशल सीखता है |

🎯 समूह समाजीकरण (Group Socialization) ➖

इसमें सहकर्मी समूह या पारिवारिक वातावरण के बजाय वास्तविकता में उसके व्यक्तित्व और व्यवहार को प्रभावित करता है |

🎯 लैंगिक समाजीकरण (Gender Socialization ) ➖

लिंग के आधार पर जो उपयुक्त व्यवहार है उसको सीखना भी लैंगिक समाजीकरण हैं इसमें लड़की लड़की के गुण और लड़के लड़के के गुण सीखते हैं और यही आवश्यक है |

🎯 जातीय सामाजिकरण ( Recital Socialization) ➖

इसमें बच्चा जातीय समूह के व्यवहार ,धारणा, मूल्य और दृष्टिकोण को प्राप्त करता है |

🔅 समाजीकरण की 4 एजेंन्सियां ➖

1) परिवार

2) विद्यालय

3) सहकर्मी समूह

4 ) संचार मीडिया |

💫 समाजीकरण के महत्वपूर्ण तत्व या कारक ➖

1) परिवार

2) आयु समूह

3) पड़ोस

4) रिश्ते – नातेदारी समूह

5) विद्यालय

6) खेल का मैदान

7) जाति

8) समाज

9) भाषा

10)राजनीतिक संस्थाएं

11) धार्मिक संस्थाएं

नोट्स बाॅय➖ रश्मि सावले

🌻🌼🍀🌸🌺🌻🌼🍀🌸🌺🌻🌼🍀🌸🌺🌻🌼🍀🌸🌺

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.