✴️ *स्मृति एवं विस्मृति* ✴️

*स्मृति (memory)*✴️

👉स्मृति वह मानसिक प्रक्रिया है जिसके द्वारा मनुष्य अपने पूर्व अनुभव को मानसिक संस्कार के रूप में अपने अचेतन मन में संचित रखता है और आवश्यकता पड़ने पर अपनी वर्तमान चेतना में ले आता है।
स्मृति एक जटिल मानसिक प्रक्रिया है।

*स्मृति की परिभाषा (Definition of memory)*

👉 *वुडवर्थ के अनुसार*, “पहले सीखी जा चुकी बात का स्मरण करना ही स्मृति है।”

👉 *रायबर्न के अनुसार*,”अपने अनुभव के संचित रखने और उनको प्राप्त करने के कुछ समय बाद चेतना के क्षेत्र में लाने की जो शक्ति हमें होती है उसे स्मृति कहते हैं।”

*स्मृति के अंग(part of memory)*

वुडवर्थ के अनुसार स्मरण प्रक्रिया को चार भागों में बांटा है

*1. सीखना या अधिगम (learning)*
किसी विषय को स्मरण करने के लिए सर्वप्रथम उसे सीखना पड़ता है बिना सीखे किसी भी विषय को अपनी स्मृति में धारण नहीं कर सकते।

*2. धारण करना(retention)*
जब हम किसी कार्य को सीखते हैं तो उसकी छाप हमारे चेतन मन में स्थापित हो जाती है फिर उस को अचेतन मन में स्थापित कर देते हैं ताकि आवश्यकता पड़ने पर चेतन मन में प्रयोग किया जा सके।

*3. पुनः स्मरण करना(recall)*
पूर्व अनुभव अथवा सीखी गई बातों को अचेतन मन से चेतन मन में लाना ही पुन:स्मरण प्रक्रिया कहलाता है।

*4. पहचान (recognition)*
पहचान से तात्पर्य उस विषय वस्तु को ठीक ढंग से जानने से है जिसे पूर्व समय में धारण किया गया हो। अतः अच्छी स्मृति वही मानी जाती है जिसमें सही ज्ञान का स्मरण किया गया हो।

*अच्छी स्मृति की विशेषताएं* ✴️

👉 *1. शीघ्र सीखना /अधिगम*
अच्छी स्मृति वही होती है जिसमें कोई बच्चा पाठ्य वस्तु या कोई विषय तुरंत याद कर लेता हो।

👉 *2. उत्तम धारण शक्ति*
पढ़ी गई विषय वस्तु अधिक दिनों तक याद रहती है तो इसका मतलब यह है कि बच्चे की धारण शक्ति बहुत अच्छी है।

👉 *3. शीघ्र पुन: स्मरण*
शीघ्र पुन: स्मरण अच्छी स्मृति के लिए आवश्यक है।

👉 *4. शीघ्र एवं स्पष्ट पहचानना*
यदि स्मरण शीघ्र एवं स्पष्ट हो तो यह अच्छे स्मृति का संकेत है। जैसे बच्चा पूरे वर्ष कई विषयों का अध्ययन करता है जब वह परीक्षा देने के लिए जाता है तो जिस विषय का परीक्षा है उस विषय में पढ़ी गई जानकारी का शीघ्र एवं स्पष्ट याद आ जाना।

👉 *5. अनावश्यक बातों का विस्मरण*
अच्छी स्मृति का यह गुण भी होना चाहिए कि जो अनावश्यक बातें हमारे मस्तिष्क में है उसको भूल जाना क्योंकि अनावश्यक बातें हमारे जीवन में चिंता एवं तनाव उत्पन्न करती हैं जो हमारे स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है।

*स्मृति के प्रकार*✴️

👉1. तत्कालिक स्मृति(instant memory)

👉2. स्थाई स्मृति(permanent memory)

👉3. व्यक्तिगत स्मृति(personal memory)

👉4. अव्यक्तिगत स्मृति(impersonal memory)

👉5. सक्रिय स्मृति(active memory)

👉6. निष्क्रिय स्मृति(idle memory)

👉7. यांत्रिक स्मृति (mechanical memory)

👉8. तार्किक स्मृति (logical memory)

👉9. आदत स्मृति (habit memory)

👉10. इंद्रिय अनुभव स्मृति (sense experience memory)

👉11. शारीरिक स्मृति (physical memory)

👉12. वास्तविक स्मृति(real memory)

*विस्मृति(forgetting)*✴️

किसी सीखी हुई वस्तु को स्मरण न कर पाना विस्मृति या विस्मरण कहलाता है।
मानव जीवन के लिए जिस प्रकार स्मृति की आवश्यकता होती है उसी प्रकार विस्मृति भी आवश्यक है।
जैसे- कोई दुख की बात को भूल जाना ही हमारे लिए बेहतर है यदि वह हमारी स्मृति में रहेगा तो हमें मानसिक तनाव देगा।

*विस्मृति की परिभाषाएं( definition of forgetting)*✴️

👉 *मन के अनुसार*, “सीखी बात को धारण करना और पुनः स्मरण में असफलता विस्मृति कहलाती है।”

👉 *ड्रेवर के अनुसार*,”विस्मृति का अर्थ है किसी समय प्रयास करने पर भी किसी पूर्व अनुभव का स्मरण करने या पहले सीखे हुए किसी क्रिया को करने में असफलता।”

*विस्मृति के कारण(causes of forgetting)*✴️

विस्मृति के दो कारण हैं-

👉1. सैद्धांतिक कारण
(theoretical causes)
👉2. सामान्य कारण
(general causes)

1) *विस्मृति के सैद्धांतिक कारण*

👉1. अनाभ्यास का सिद्धांत

👉2. दमन का सिद्धांत

👉3. बाधा का सिद्धांत

2) *विस्मृति के सामान्य कारण*

👉1. विषय सामग्री का स्वरूप

👉2. सीखने की मात्रा

👉3. सीखने की दोषपूर्ण विधि

👉4. रुचि और ध्यान का अभाव

👉5. सीखने वाले की आयु और बुद्धि

👉6. पुनरावृति का अभाव

👉7. मस्तिष्क की चोट

👉8. मानसिक आघात

👉9. मानसिक द्वंद

👉10. मादक वस्तुओं का सेवन

👉11. मानसिक रोग।

*Notes by Shreya Rai* ✍️
🌟 *स्मृति और विस्मृत* 🌟

💫 *स्मृति (Memory):–*
स्मृति को कुछ विद्वानों के द्वारा परिभाषित किया गया है –

🌟 *वुडवर्थ के अनुसार:-* “पहले सीखी जा चुकी बात का स्मरण करना ही स्मृति है ।”

🌟 *रायबर्न के अनुसार:-* “अपने अनुभव को संचित रखने और उनको प्राप्त करने के कुछ समय बाद चेतना के क्षेत्र में लाने की को शक्ति होती हैं,उसे ही स्मृति कहते है।”

💫 *स्मृति के अंग ( वुडवर्थ ने स्मरण प्रक्रिया को चार भागों में बांट है):-*

✨ *१.सीखना या अधिगम ( Learning)*

✨ *२. धारण करना (Retention)*

✨ *३. पुनः स्मरण ( Recall)*

✨ *४. पहचान (Recognition)*

💫 *अच्छी स्मृति की विशेषताएं:-* अच्छी स्मृति की विशेषताएं निम्न हैं–

✨ *१.* शीघ्र सीखना या अधिगम।

✨ *२.* उत्तरम धारणा शक्ति।

✨ *३.* शीघ्र पुनः स्मरण ।

✨ *४.* शीघ्र स्वयं स्पष्ट पहचान।

✨ *५.* अनावश्यक बातों का विस्मरण

✨ *६.* उपदियता ( utility)

💫 *स्मृति के प्रकार:-*
स्मृति के प्रकार निम्नलिखित है–

✨ *१. तात्कालिक स्मृति ( Instand memory)*

✨ *२. स्थाई स्मृति ( Permanent memory)*

✨ *३. व्यक्तिगत स्मृति ( Personal memory )*

✨ *४. अवयक्गितगत स्मृति ( Impersonal memory )*

✨ *५. सक्रिय स्मृति ( Active memory )*

✨ *६. निष्क्रिय स्मृति ( Idle memory)*

✨ *७. यांत्रिक स्मृति ( Mechanical memory)*

✨ *८. तार्किक स्मृति ( Logical memory )*

✨ *९. आदत स्मृति (Habit memory)*

✨ *१०. इंद्रिय अनुभव स्मृति (Sense memory)*

✨ *११. शारीरिक स्मृति ( Physical memory)*

✨ *१२. वास्तविक स्मृति ( Real memory )*

🌟 *विस्मृत( Forgotten)*

चीजों को भूलना या जो स्मरण ना हो , विस्मृत कहलाती हैं।

💫 *मन के अनुसार:-* “सीधी बात को धारण करना और पुनः स्मरण में असफलता विस्मृति कहलाती है।”

💫 *ड्रेवर के अनुसार:-* “विस्मृति का अर्थ है किसी समय प्रयास करने पर भी किसी पूर्व अनुभव का स्मरण करने या पहले सीखे हुए किसी क्रिया को करने में असफलता।”

🌟 *विस्मृति के कारण:-*
विस्मृति के कारणों को जानकर उसे ठीक करने की कोशिश कर सकते हैं। विस्मृति के दो कारण है–

💫 *१. सैध्दानिक कारण*
💫 *२. सामान्य कारण*

🌟 *सैध्दानिक कारण :-*

इसके निम्न भागों में बांट गया है–

✨ *१. अनाभ्यस का सिद्धांत*

✨ *२. दमन का सिद्धांत*

✨ *३. बाधा का सिद्धांत*

🌟 *सामान्य कारक:-*
सामान्य कारक को भी निम्न कारक हैं–

✨ *१. विषम सामग्री का स्वरूप*

✨ *२. सीखने की मात्रा ज्यादा*

✨ *३. दोषपूर्ण विधि*

✨ *४. रुचि, ध्यान का अभाव*

✨ *५. सीखने की आयु और बुद्धि*

✨ *६. पुनरावृति का अभाव*

✨ *७. मस्तिष्क के चोट*

✨ *८. मानसिक आघात*

✨ *९. मादक वस्तुओं का सेवन*

✨ *१०. मानसिक रोग*

✍🏻✍🏻✍🏻 *Notes By–Pooja*✍🏻✍🏻✍🏻

🤔 स्मृति और विस्मृति 🤔

स्मृति वह होती है जो हमें याद रहती है जैसे कोई घटना या कोई सूचना हमें याद रहती है यह हमारे माइंड में हमेशा रहती है उसे हम स्मृति कहते हैं

वुडवर्थ के अनुसार:- पहले सीखी जा चुकी बात का स्मरण करना ही स्मृति है

raybarn के अनुसार:- अपने अनुभव को संचित रखने और उनको प्राप्त करने की कुछ समय बाद चेतना क्षेत्र में लाने की जो शक्ति हमें होती है उसे स्मृति कहते हैं

🤔स्मृति के अंग 🤔

वुडवर्थ को स्मरण प्रक्रिया को चार भागों में बांटा है

1 सीखना या अधिगम लर्निंग
2 धारण करना retention
3 पुनः स्मरण recoll
4 पहचान reagition

अच्छी स्मृति की विशेषता

1 शीघ्र सीखना अधिगम करना
2 उत्तम धारण शक्ति
3शीघ्र पुण्यस्मरण
4 शीघ्र एवं स्पष्ट पहचान
5 अनावश्यक बातों का विस्मरण
6 उपादेयता utility

स्मृति के प्रकार

1 तत्कालीन स्मृद्धि( instant memory )
2 स्थाई स्मृति (permanent memory)
3 व्यक्तिगत स्मृति ( personal memory)
4 व्यक्तिगत स्मृति( impersonal memory)
5 सक्रिय स्मृति (active memory)
6 निष्क्रिय स्मृति (idle memory )
7 यांत्रिक स्मृति
8 तार्किक स्मृति( logical memory)
9 आदत स्मृति( habit memory)
10 इंद्रिय अनुभव स्मृति (since experience memory)
11 शारीरिक स्मृति( physical memory)
12 वास्तविक स्मृति (real memory )

🤔 विस्मृति 🤔

मन के अनुसार:- सी की बात को धारण करना और पुनः स्मरण में असफलता विस्मृति कहलाती है

जेम्स ड्रेवर के अनुसार:- विस्मृति का अर्थ किसी समय प्रयास करने पर भी किसी पूर्व अनुभव का स्मरण करने या पहले सीखे हुए किसी क्रिया को करने में असफलता

🤔विस्मृति के कारण 🤔

सैद्धांतिक कारण:- 1 अनाभ्यास का सिद्धांत
2 दमन का सिद्धांत
3 बाधा का सिद्धांत

2 सामान्य कारण;- विषय सामग्री का स्वरूप
सीखने की मात्रा
दोषपूर्ण विधि
सीखने वाले की आयु और बुद्धि
पुनरावृति का भाव
मस्तिष्क चोट
मानसिक आघात
मानसिक द्वंद
मादक वस्तुओं का सेवन
मानसिक रोग

🙏🙏🙏🙏🙏sapna sahu🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏

🌼🌼🌼स्मृति और विस्मृत🌼🌼🌼

🌼🌼🌼स्मृति (Memory):–
स्मृति को कुछ विद्वानों के द्वारा परिभाषित किया गया है –

🌼🌼वुडवर्थ के अनुसार:- “पहले सीखी जा चुकी बात का स्मरण करना ही स्मृति है ।”

🌼🌼रायबर्न के अनुसार:-“अपने अनुभव को संचित रखने और उनको प्राप्त करने के कुछ समय बाद चेतना के क्षेत्र में लाने की को शक्ति होती हैं,उसे ही स्मृति कहते है।”

🌼🌼स्मृति के अंग ( वुडवर्थ ने स्मरण प्रक्रिया को चार भागों में बांट है)

🌼1.सीखना या अधिगम ( Learning)

🌼2. धारण करना (Retention)

🌼3. पुनः स्मरण ( Recall)

🌼4. पहचान (Recognition)

🌼🌼अच्छी स्मृति की विशेषताएं:- अच्छी स्मृति की विशेषताएं निम्न हैं–

🌼1.शीघ्र सीखना या अधिगम।
🌼2. उत्तरम धारणा शक्ति।
🌼3. शीघ्र पुनः स्मरण ।
🌼4. शीघ्र स्वयं स्पष्ट पहचान।
🌼5.अनावश्यक बातों का विस्मरण
🌼6.उपदियता ( utility)

🌼🌼🌼स्मृति के प्रकार🌼🌼🌼
स्मृति के प्रकार निम्नलिखित है–

🌼1.तात्कालिक स्मृति ( Instand memory)

🌼2. स्थाई स्मृति ( Permanent memory)

🌼3.व्यक्तिगत स्मृति ( Personal memory )

🌼4. अव्यक्तितगत स्मृति ( Impersonal memory )

🌼5. सक्रिय स्मृति ( Active memory )

🌼6. निष्क्रिय स्मृति ( Idle memory)

🌼7. यांत्रिक स्मृति ( Mechanical memory)

🌼8. तार्किक स्मृति ( Logical memory )

🌼9. आदत स्मृति (Habit memory)

🌼 10. इंद्रिय अनुभव स्मृति (Sense memory)

🌼11. शारीरिक स्मृति ( Physical memory)

🌼12. वास्तविक स्मृति ( Real memory )

🌼🌼🌼विस्मृत( Forgotten)🌼🌼

चीजों को भूलना या जो स्मरण ना हो , विस्मृत कहलाती हैं।

🌼🌼मन के अनुसार:-“सीधी बात को धारण करना और पुनः स्मरण में असफलता विस्मृति कहलाती है।”

🌼🌼ड्रेवर के अनुसार:-“विस्मृति का अर्थ है किसी समय प्रयास करने पर भी किसी पूर्व अनुभव का स्मरण करने या पहले सीखे हुए किसी क्रिया को करने में असफलता।”

🌼🌼 विस्मृति के कारण:-
विस्मृति के कारणों को जानकर उसे ठीक करने की कोशिश कर सकते हैं। विस्मृति के दो कारण है–

🌼1.. सैध्दानिक कारण
🌼2. सामान्य कारण

🌼🌼सैध्दानिक कारण 🌼🌼
इसके निम्न भागों में बांट गया है

🌼1. अनाभ्यस का सिद्धांत
🌼2. दमन का सिद्धांत
🌼3. बाधा का सिद्धांत

🌼🌼सामान्य कारक🌼🌼
सामान्य कारक को भी निम्न कारक हैं–

🌼1. विषम सामग्री का स्वरूप
🌼2. सीखने की मात्रा ज्यादा
🌼3. दोषपूर्ण विधि
🌼4. रुचि, ध्यान का अभाव
🌼5. सीखने की आयु और बुद्धि
🌼6. पुनरावृति का अभाव
🌼7. मस्तिष्क के चोट
🌼8. मानसिक आघात
🌼9. मादक वस्तुओं का सेवन
🌼10. मानसिक रोग

By manjari soni🌼🌼🌼
🏵️🏵️ स्मृति और विस्मृति 🏵️🏵️
🏵️👉 स्मृति:~
🔸 वुडवर्थ के अनुसार :~पहले सीखी जा चुकी बात का स्मरण करना ही स्मृति है।
🔹 रायबर्न के अनुसार:~अपने अनुभव को संचित रखने और उनको प्राप्त करने के कुछ समय बाद चेतना के क्षेत्र में लाने की जो शक्ति हमें होती है उसे स्मृति कहते हैं।
🏵️👉 स्मृति के अंग:~
वुडबर्थ ने स्मरण प्रक्रिया को चार भागों में बांटा है:-
🏵️1-सीखना या अधिगम (learning)
🏵️2-धारण करना (Retention)
🏵️3-पुनः स्मरण (recall)
🏵️4-पहचान (Recoginetion)
🏵️👉 अच्छी स्मृति की विशेषता:~
🏵️1•शीघ्र सीखना / अधिगम
🏵️2•उत्तम धारण शक्ति
🏵️3•शीघ्र पुनः स्मरण
🏵️4•शीघ्र एवं स्पष्ट पहचान
🏵️5•अनावश्यक बातों का विस्मरण
🏵️6•उपादेयता
🏵️👉 स्मृति के प्रकार:~
🏵️1-तत्कालिक स्मृति (instant memory)
🏵️2-स्थाई स्मृति(permanent memory)
🏵️3-व्यक्तिगत स्मृति (personal memory)
🏵️4-अव्यक्तिगत स्मृति (impersonal memory)
🏵️5-सक्रिय स्मृति (active memory)
🏵️6-निष्क्रिय स्मृति(idle memory)
🏵️7-यांत्रिक स्मृति(mechanical memory)
🏵️8-तार्किक स्मृति(logical memory)
🏵️9-आदत स्मृति(habit memory)
🏵️10-इंद्रिय अनुभव स्मृति(sense experience memory)
🏵️11-शारीरिक स्मृति(physical memory)
🏵️12-वास्तविक स्मृति(real memory)
🏵️👉 विस्मृति:~
🔸 मन के अनुसार:~सीखी बात को धारण करना और पुनः स्मरण में असफलता विस्मृति है।
🔹 ड्रेवर के अनुसार:~विस्मृति का अर्थ है किसी समय प्रयास करने पर भी किसी पूर्व अनुभव का स्मरण करने या पहले सीखे हुए किसी क्रिया को करने में असफलता ही विस्मृति है।
🏵️👉 विस्मृति के कारण:~
🏵️1-सैद्धांतिक कारण:~
•अनाभ्यास का सिद्धांत
•दमन का सिद्धांत
•वाधा का सिद्धांत
🏵️2-सामान्य कारण:~
•विषय सामग्री का स्वरूप
•सीखने की मात्रा
•दोषपूर्ण विधि
•रुचि और ध्यान का अभाव
•सीखने की आयु और बुद्धि
•पुनरावृति का अभाव
•मस्तिक चोट
•मानसिक आघात
•मानसिक द्वंद
•मादक वस्तुओं का सेवन
•मानसिक रोग
🔹🔸🔹
🔸🏵️🔹 Notes by~VINAY SINGH THAKUR

🖊️ स्मृति और विस्मृति🖊️

🔆 स्मृति:

🔹वुडवर्थ के अनुसार:
पहले सीखी जा चुकी बात का स्मरण करना ही स्मृति है।

🔹रायबर्न के अनुसार:
अपने अनुभव को संचित रखने और उनको प्राप्त करने के कुछ समय बाद चेतना के क्षेत्र में लाने की जो शक्ति हमें होती है, उसे स्मृति करते हैं।

🖊️ स्मृति के अंग:

🔹 सीखना या अधिगम( Learning
🔹 धारण करना( Retention)
🔹 पुनः स्मरण( Recall)
🔹 पहचान( Recognition)

🖊️अच्छी स्मृति की विशेषताएं:

1) शीघ्र सीखना/अधिगम।
2) उत्तम धारण शक्ति।
3) शीघ्र पुनः स्मरण।
4) शीघ्र एवं स्पष्ट पहचान।
5) उपादेयता( यूटिलिटी)

🎊 स्मृति के प्रकार:
1) तत्कालिक स्मृति
2) स्थाई स्मृति
3) व्यक्तिगत स्मृति
4) अव्यक्तिगत स्मृति
5) सक्रिय स्मृति
6) निष्क्रिय स्मृति
7) यांत्रिकी स्मृति
8) तार्किक स्मृति
9) आदत स्मृति
10) इंद्रिय अनुभव स्मृति
11) शारीरिक स्मृति
12) वास्तविक स्मृति

🔆विस्मृति:

🔹मन :
सीखी की गई बात को धारण करना और पुण्य स्मरण में असफलता विस्मृति कहलाती है।

🔹 ड्रेवर:
स्मृति का अर्थ है किसी समय प्रयास करने पर भी किसी पूर्व अनुभव का स्मरण करने या पहले सीखी हुई किसी क्रिया को करने में असफलता।

🎊 विस्मृति के कारण:

1) सैद्धांतिक कारण
a) अनाभ्यास का सिद्धांत।
b) दमन का सिद्धांत।
c) बाधा का सिद्धांत।

2) सामान्य कारण:
a) विषय सामग्री का स्वरूप।
b) सीखने की मात्रा।
c) दोषपूर्ण विधि।
d) रुचि और ध्यान का अभाव।
e) सीखने वाले की आयु और वृद्धि।
f) पुनरावृति का अभाव।
g) मस्तिष्क की चोट।
h) मानसिक आघात।
i) मानसिक द्वंद।
j) मादक वस्तुओं का सेवन।
k) मानसिक रोग।

Notes By Akanksha
?🎊🥰🤟🏻🙏🏻
_________________________
स्मृति और विस्मृति
(Memory and Forgetting)
_________________________
⚡स्मृति (Memory)

🎉वुडवर्थ के अनुसार, “पहले सीखी जा चुकी बात का स्मरण करना ही स्मृति है।”

🎉रायबर्न के अनुसार, “अपने अनुभव को संचित करने और उनको प्राप्त करने के कुछ समय बाद चेतना के क्षेत्र में लाने की जो शक्ति होती है उसे स्मृति कहते हैं।”

⚡स्मृति के अंग (वुडवर्थ ने स्मरण प्रक्रिया को 4 भागों में बांटा है)
⭐सीखना/अधिगम(Learning)
⭐धारण करना (Retention)
⭐पुनः स्मरण (Recall)
⭐पहचान (Recognition)

⚡अच्छे स्मृति की विशेषताएं
💦शीघ्र सीखना/अधिगम
💦उत्तम धारण शक्ति
💦शीघ्र पुनः स्मरण
💦शीघ्र एवं स्पष्ट पहचान
💦अनावश्यक बातों का विस्मरण
💦उपादेयता

⚡स्मृति के प्रकार (Types of memory)
👉तात्कालिक स्मृति (instant memory)
👉स्थाई स्मृति (permanent memory)
👉व्यक्तिगत स्मृति (personal memory)
👉अव्यक्तिगत स्मृति (impersonal memory)
👉सक्रिय स्मृति (active memory)
👉निष्क्रिय स्मृति (idle memory)
👉यांत्रिक स्मृति (mechanical memory)
👉तार्किक स्मृति (logical memory)
👉आदत स्मृति (habit memory)
👉इंद्रिय अनुभव स्मृति (sense experience memory)
👉शारीरिक स्मृति (physical memory)
👉वास्तविक स्मृति(real memory)

⚡विस्मृति(Forgetting)
✨मन के अनुसार, “सीखी बात को धारण करना और पुनः स्मरण में असफलता विस्मृति कहलाती है।”

✨ड्रेवर के अनुसार, “विस्मृति का अर्थ है किसी समय प्रयास करने पर भी किसी पूर्व अनुमान का स्मरण करने या पहले सीखे हुए किसी क्रिया को करने में असफलता।”

⚡विस्मृति के कारण(Causes of forgetting)

⚡सैद्धांतिक कारण
💫 अनाभ्यास का सिद्धांत
💫दमन का सिद्धांत
💫बाधा का सिद्धांत

⚡सामान्य कारण
🌿विषय सामग्री का स्वरूप
🌿सीखने की मात्रा
🌿दोषपूर्ण विधि
🌿रुचि और ध्यान का अभाव
🌿सीखने वाले की आयु और बुद्धि
🌿पुनरुक्ति का अभाव
🌿मस्तिष्क की चोट
🌿मानसिक आघात
🌿मानसिक द्वंद
🌿मादक वस्तुओं का सेवन
🌿मानसिक रोग

✍️✍️ By Awadhesh Kumar ✍️✍️
⭐⭐⭐
_____________________________

🔆 स्मृति और विस्मृति ➖

⭕ स्मृति ➖

स्मृति को कुछ विद्वानों द्वारा परिभाषित किया गया है ➖

🍀 वुडवर्थ के अनुसार ➖

“पहले सीखी जा चुकी बात का स्मरण करना ही स्मृति है ” |

🍀 रायवर्न के अनुसार ➖

“अपने अनुभव को संचित रखने और उनको प्राप्त करने में करने के लिए कुछ समय बाद चेतना के क्षेत्र में लाने की शक्ति होती है उसे स्मृति कहते हैं “|

⭕ स्मृति के अंग ➖

इस प्रक्रिया को वुडवर्थ ने चार भागों में बांटा है ➖

1) सीखना या अधिगम (Learning) |

2) धारण करना (Retention )|

3) पुनः स्मरण ( Recall)|

4) पहचान (Reconation )|

⭕ अच्छी स्मृति की विशेषताएं ➖

1) शीघ्र सीखना/ अधिगम |

2) उत्तम धारण शक्ति |

3) शीघ्र पुनः स्मरण करना |

4) शीघ्र एवं स्पष्ट पहचान |

5) आवश्यक बातों का भी विस्मरण |

6) उपादेयता ( Utility) ➖

ऐसी स्मृति जो हम उपयोग में ला सकें उपादेयता कहलाती है |

🎯 स्मृति के प्रकार (Types of Memory)➖

🍀 तत्कालिक स्मृति( Instant Memory)➖

ऐसी स्मृति जो तत्काल के लिए होती है तत्कालिक स्मृति कहलाती है |

🍀 स्थाई स्मृति (Permanent Memory)➖

ऐसी स्मृति जो अधिक समय के लिए होती है स्थाई स्मृति कहलाती है |

🍀 व्यक्तिगत स्मृति ( Personal Memory)➖

ऐसी स्मृति जिसमें व्यक्ति अपनी चीजों को याद रखता है उसे अपनी ही चीजों का स्मरण रहता है अर्थात बाहरी कारकों का प्रभाव नहीं रहता है व्यक्तिगत स्मृति कहलाती है |

🍀 अव्यक्तिगत स्मृति (Impersonal Memory) ➖

इस प्रकार की स्मृति को बाहरी कारक प्रभावित नहीं करते हैं जिसको स्मरण करने के लिए बाहरी कारकों की आवश्यकता नहीं होती है अव्यक्तिगत स्मृति कहलाती है |

🍀 सक्रिय स्मृति ( Active Memory ) ➖

इस प्रकार की स्मृति में व्यक्ति का मस्तिष्क किसी कार्य को करने के लिए अत्यधिक सक्रिय रहता है वह हर समय इस बात का अनुभव करता है कि कौन सा कार्य कब और किस प्रकार से किया जा सकता है किस बात की प्रति उत्तर देना है या नहीं देना है और उस कार्य को करने के लिए जिस भी प्रकार के तर्क वितर्क की आवश्यकता होती है वह उस तरीके या उस स्तर से उस कार्य को क्रिएट करता है वह उसकी सक्रिय स्मृति है |

🍀 निष्क्रिय स्मृति(Idle Memory)➖

ऐसी स्मृति जिसके लिए मस्तिष्क सक्रिय नहीं होता है अर्थात किसी कार्य को करने के लिए हमारा मन सक्रिय नहीं होता है निष्क्रिय रहता है ऐसी स्मृति निष्क्रिय स्मृति कहलाती है |

🍀 यांत्रिक स्मृति (Mechanical Memory)➖

ऐसी स्मृति जो व्यक्ति करके सीखता है जिसको करने के लिए बल का प्रयोग किया जाता है इसमें शारीरिक या मानसिक रूप से कार्य किया जाता है यांत्रिक स्मृति कहलाती है |

🍀 तार्किक स्मृति(Logical Memory) ➖

ऐसी स्मृति जिसमें कई चीजों के मध्य तर्क वितर्क करके उसको समझना तार्किक स्मृति है |

🍀 आदत स्मृति (Habit Memory)➖

इस प्रकार की स्मृति किसी कार्य को करने के लिए उसकी आदत होती है उस कार्य को करने के लिए आदत के अनुसार किया जाता है तो वह हमारी आदत स्मृति कहलाती है |

🍀 इन्द्रिय अनुभव स्मृति
(Sense Experiences Memory)➖

इस प्रकार की स्मृति में इन्द्रियों के द्वारा अनुभव किया जाता है यदि व्यक्ति किसी कार्य को करता है तो वह उस कार्य को अपनी इंद्रियों के द्वारा अनुभव करता है फिर उस कार्य को अपनी स्मृति के अनुसार करता है इन्द्रिय अनुभव स्मृति कहलाती है |

🍀 शारीरिक स्मृति (Physical Memory)➖

इस प्रकार की स्थिति में शरीर अनुभव करता है |

🍀 वास्तविक स्मृति (Real Memory)➖

इस प्रकार की स्मृति में व्यक्ति जो भी कार्य करते हैं उसमें वास्तविकता की आवश्यकता होती है वास्तविक स्मृति कहलाती है |

⭕ विस्मृति➖

🍀 मन के अनुसार➖

” सीखी गई बातों को धारण करना और पुनः स्मरण करने में असफलता भी विस्मृति कहलाती है ” |

🍀 ड्रेवर के अनुसार➖

विस्मृति का अर्थ है किसी समय प्रयास करने पर भी किसी पूर्व अनुभव का स्मरण करने या पहले से सीखे हुए किसी क्रिया करने में असफलता ” |

🎯 विस्मृति के कारण ➖

🍀 सैद्धांतिक कारण➖

1) अनाभ्यास का सिद्धांत

2) दमन का सिद्धांत

3) बाधा का सिद्धांत

🍀 सामान्य कारण➖

1) विषय सामग्री का स्वरूप |

2) सीखने की अधिक मात्रा |

3) दोषपूर्ण विधि |

4) रुचि और ध्यान का अभाव |

5) सीखने वाले की आयु और बुद्धि |

6) पुनरावृत्ति करना |

7) मस्तिष्क चोट |

8) मानसिक आघात |

9) मानसिक द्वंद् |

10) मादक वस्तुओं का सेवन |

11) मानसिक रोग |

नोट्स बाय➖ रश्मि सावले

🌻🍀🌼🌸🌺🌻🍀🌼🌸🌺🌻🍀🌼🌺🌸🌻🍀🌼🌺🌸
🌸🌸 स्मृति -विस्मृति🌸🌸

🌺🌺 स्मृति🌺🌺

✍🏻 वुडवर्थ➖ पहले सीखी जा चुकी बातों का स्मरण करना ही स्मृति है।

Memory consists in remembering what has previously been learned,,,,,, woodworth

✍🏻 रायबर्न ➖ अपने अनुभव को संचित रखने और उन उनको प्राप्त करने के कुछ समय बाद चेतना के क्षेत्र में पुनः लाने की जो शक्ति हमें होती है उसी को स्मृति कहते हैं।

The power that we have a store our experiences and to bring them into the the field of consciousness sometime after the experience have occurred,is termed memory,,,,,,,,Rayburn

🌸🌺 स्मृति के अंग🌺🌸

1-सीखना या अधिगम
2-धारण करना
3-पुन:स्मरण
4-पहचान

🌸🌺 अच्छी स्मृति की विशेषताएं /चिन्ह🌺🌸

1-शीघ्र सीखना /अधिगम

2-उत्तम धारण शक्ति

3-शीघ्र पुनः स्मरण

4-शीघ्र एवं स्पष्ट पहचान

5-उपादेयता (यूटिलिटी)

🌸🌺 स्मृति के प्रकार🌸🌺

1-तत्कालीन स्मृति

2-स्थाई स्मृति

3-व्यक्तिगत स्मृति

4-अव्यक्तिगत स्मृति

5-सक्रिय स्मृति

6-निष्क्रिय स्मृति

7-यांत्रिकी स्मृति

8-आदत स्मृति

9-तार्किक स्मृति

10-इंद्रिय अनुभव स्मृति

11-शारीरिक स्मृति

12-वास्तविक स्मृति

🌸🌺 विस्मृति🌺🌸
जब हम कोई नई बात सीखते हैं या नए अनुभव प्राप्त करते हैं तब हमारे मस्तिष्क में उसका चित्र अंकित हो जाता है हम अपनी स्मृति की सहायता से उस अनुभव को अपनी चेतन में फिर लेकर उसका स्मरण कर सकते हैं पर कभी-कभी हमें ऐसा करने में सफलता नहीं मिलती है हमारी यह असफलता क्रिया विस्मृति कहलाती है।

✍🏻 मन के अनुसार➖सीखी हुई बातों को स्मरण रखने या पुनः स्मरण करने की असफलता को विस्मृति कहते हैं

Forgetting is failing to retain or be able to recall what has been acquired,,,,,Munn

✍🏻 ड्रेवर के अनुसार➖विस्मृति का अर्थ है किसी समय प्रयास करने पर किसी पूर्व अनुभव या स्मरण करने या पहले सीखे हुए किसी कार्य को करने में असफलता।

Forgetting means failure at any time to recall an experii, when attempting to do so ,or to perform an action previously learned,,,,,Drever

🌸🌺 विस्मृति के कारण🌺🌸

1-सैद्धांतिक कारण

(a) अनाभ्यास का सिद्धांत

(b) दमन का सिद्धांत

(c) बाधा का सिद्धांत

2-सामान्य कारण

(a) विषय सामग्री का स्वरूप

(b) सीखने की मात्रा

(c) दोषपूर्ण विधि

(d) रुचि और ध्यान का अभाव

(e) सीखने वाले की आयु और वृद्धि

(f) पुनरावृति का अभाव

(g) मस्तिष्क की चोट

(h) मानसिक आघात

(i) मानसिक द्वंद

(j) मादक वस्तुओं का सेवन

(k) मानसिक रोग

✍🏻📚📚 Notes by…… Sakshi Sharma📚📚✍🏻
🌹 स्मृति , विस्मृति 🌹

🌲🌹 स्मृति 🌹🌲

स्मृति अर्थात पहले घटित हुयी कोई घटना ( वाक्यांश ) या पहले से सीखी हुयी बातें जो हमारे मस्तिष्क में विद्यमान रहतीं हैं तो जरूरत या वक़्त के अनुसार उन्ही का स्मरण ( याद ) करना ही स्मृति कहलाती है।
अतः स्मृति एक जटिल मानसिक प्रक्रिया है।

👉 वुडवर्थ के अनुसार :-

पहले सीखी जा चुकी बात का स्मरण (याद) करना ही ” स्मृति ” है।

👉 रायबर्न के अनुसार :-

अपने अनुभव को संचित रखने और उनको प्राप्त करने के कुछ समय बाद चेतना के क्षेत्र में लाने की जो शक्ति हममें होती है , उसे ही स्मृति कहते हैं।

🌹. स्मृति के अंग 🌹

🌲. वुडवर्थ ने स्मरण प्रक्रिया को निम्नलिखित चार भागों में बांटा है :-

1. सीखना या अधिगम ( Learning )

2. धारण करना ( Retention )

3. पुनः स्मरण ( Recall )

4. पहचान ( Recognition )

🌹🌿. अच्छी स्मृति की विशेषताएं :-

🌺 शीघ्र सीखना / अधिगम

🌺 उत्तम धारणा शक्ति

🌺 शीघ्र पुनः स्मरण

🌺 शीघ्र एवं स्पष्ट पहचान

🌺 अनावश्यक बातों का विस्मरण

🌺 उपादेयता Utility

🌹🌿. स्मृति के प्रकार :-

1. तात्कालिक स्मृति Instant memory

2. स्थाई स्मृति. Permanent Memory

3. व्यक्तिगत स्मृति Personal memory

4. अव्यक्तिगत स्मृति Impersonal memory

5. सक्रिय स्मृति Active. Memory

6. निष्क्रिय स्मृति Idle memory

7. यांत्रिक स्मृति Mechanical memory

8. तार्किक स्मृति Logical memory

9. आदत स्मृति Habit memory

10. इंद्रिय अनुभव स्मृति Sense Experience memory

11. शारीरिक स्मृति. Physical memory

12. वास्तविक स्मृति Real memory

🌲🌹 विस्मृति 🌹🌲

👉 मन के अनुसार :-

सीखी हुई बात को धारण करना और पुनः स्मरण में असफलता , ही ” विस्मृति ” कहलाती है।

👉 जेम्स ड्रेवर के अनुसार :-

विस्मृति का अर्थ है किसी समय प्रयास करने पर भी किसी पूर्व अनुभव का स्मरण करने या पहले सीखी हुई किसी क्रिया को करने में असफलता ।

🌹 विस्मृति के कारण :-

🌲 1. सैद्धांतिक कारण :-

🌺 अनाभ्यास का सिद्धांत

🌺 दमन का सिद्धांत

🌺 बाधा का सिद्धांत

🌲 2. सामान्य कारण :-

🌺 विषय सामग्री का स्वरूप

🌺 सीखने की मात्रा ज्यादा

🌺 दोषपूर्ण विधि

🌺 रुचि और ध्यान का अभाव

🌺 सीखने वाले की आयु और बुद्धि

🌺 पुनरावृति का अभाव

🌺 मस्तिष्क चोट

🌺 मानसिक आघात

🌺 मानसिक द्वंद

🌺 मानसिक रोग

🌺 मादक पदार्थों का सेवन ।

🌹✒️ Notes by – जूही श्रीवास्तव ✒️🌹
🔆स्मृति और विस्मृत🔆

स्मृति (Memory) :- वह मानसिक प्रक्रिया है जिसके द्वारा मनुष्य अपने पूर्व अनुभव को मानसिक रूप से अपने अचेतन मन मे रखता है और आवश्यकता पढ़ने पर अपनी वर्तमान चेतना मे लाता है |
स्मृति को कुछ विद्वानों के द्वारा परिभाषित किया गया है –

◼ वुडवर्थ के अनुसार:- “पहले सीखी जा चुकी बात का स्मरण करना ही स्मृति है ।”
🔥रायबर्न के अनुसार:-“अपने अनुभव को संचित रखने और उनको प्राप्त करने के कुछ समय बाद चेतना के क्षेत्र में लाने की को शक्ति होती हैं,उसे ही स्मृति कहते है।”

स्मृति के अंग (Part of memory) वुडवर्थ के अनुसार स्मरण प्रक्रिया को चार भागों में बांटा गया है |

1.सीखना या अधिगम ( Learning)

2. धारण करना (Retention)

3. पुनः स्मरण ( Recall)

4. पहचान (Recognition)

अच्छी स्मृति की विशेषताएं :- अच्छी स्मृति की विशेषताएं जो निम्न हैं–

1.शीघ्र सीखना या अधिगम।
2. उत्तरम धारणा शक्ति।
3. शीघ्र पुनः स्मरण ।
4. शीघ्र स्वयं स्पष्ट पहचान।
5.अनावश्यक बातों का विस्मरण
6.उपदियता ( utility)

🔥स्मृति के प्रकार निम्नलिखित है–

1.तात्कालिक स्मृति ( Instand memory)

2. स्थाई स्मृति ( Permanent memory)

3.व्यक्तिगत स्मृति ( Personal memory )

4. अव्यक्तितगत स्मृति ( Impersonal memory )

5. सक्रिय स्मृति ( Active memory )

6. निष्क्रिय स्मृति ( Idle memory)

7. यांत्रिक स्मृति ( Mechanical memory)

8. तार्किक स्मृति ( Logical memory )

9. आदत स्मृति (Habit memory)

10. इंद्रिय अनुभव स्मृति (Sense memory)
11. शारीरिक स्मृति ( Physical memory)

12. वास्तविक स्मृति ( Real memory )

विस्मृत( Forgotten)

किसी चीजों को भूलना या जो स्मरण ना हो सके उसे विस्मृति कहलाती हैं।

◼मन के अनुसार:-“सीधी बात को धारण करना और पुनः स्मरण में असफलता विस्मृति कहलाती है।”

◼ड्रेवर के अनुसार:-“विस्मृति का अर्थ है किसी समय प्रयास करने पर भी किसी पूर्व अनुभव का स्मरण करने या पहले सीखे हुए किसी क्रिया को करने में असफलता।”
🔅 विस्मृति के कारण:-
विस्मृति के कारणों को जानकर उसे ठीक करने की कोशिश कर सकते हैं। विस्मृति के दो कारण है–

◼1. सैध्दानिक कारण
◼2. सामान्य कारण

🔥सैध्दानिक कारण
इसके निम्न भागों में बांट गया है

1. अनाभ्यास का सिद्धांत
2. दमन का सिद्धांत
3. बाधा का सिद्धांत

🔥सामान्य कारक को भी निम्न कारक हैं–

1. विषम सामग्री का स्वरूप
2. सीखने की मात्रा ज्यादा
3. दोषपूर्ण विधि
4. रुचि, ध्यान का अभाव
5. सीखने की आयु और बुद्धि
6. पुनरावृति का अभाव
7. मस्तिष्क के चोट
8. मानसिक आघात
9. मादक वस्तुओं का सेवन
10. मानसिक रोग
Notes by ➖Ranjana Sen

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.