🎄🎄🎄🎄🎄🎄
Date -31/05/21
Time – 8:00 am

🍁 बच्चों के अभिप्रेरणा मे शिक्षक के कार्य
🤸‍♀️ अधिगम को सशक्त और प्रभावशाली बनाने मे शिक्षक का महत्वपूर्ण योगदान है |
शिक्षण और अधिगम दोनो समांतर हैं, शिक्षक सिखाता है और शिक्षार्थी सीखता है |

छात्र तब अधिक रुचि और गति से सीखता हैं जब शिक्षक उसे उचित प्रेरणा देता हैं |

🤸‍♀️ यह प्रेरणा देने के लिए शिक्षक को अनेक अभिप्रेरणा कार्य करने चाहिए ➖

  1. नये ज्ञान की प्राप्ति के लिए प्रोत्साहन दे | शिक्षक सामग्री के उद्देश्य स्पष्ट होने चाहिए |
    छात्रों मे निहित गुणों की पहचान करनी चाहिए |
  2. छात्रों को अभिप्रेरणा देते समय उनके वैयक्तिक व्यवहार या तरीके पर ध्यान दे |
  3. समाजिकता के गुण विकसित करें, इससे उन्हे लक्ष्य प्राप्ति की ओर अग्रसर किया जा सकता है |
  4. प्रेरणा देकर व्यवहार को निर्देशित कर सकते है |
  5. मार्गदर्शन देकर जीवन का लक्ष्य निर्धारित मे मदद करना |
  6. छात्रों की आवश्यकता को समझकर, उनकी पूर्ति करना |
  7. शिक्षक छात्र मे अभिप्रेरणा के द्वारा उत्तेजना करता है इससे शक्ति का संचार होता है |
  8. अभिप्रेरणा से रुचि विकसित किया जाता है |
  9. अभिप्रेरणा व्यवहार मे अनुशासन का विकास करता हैं, अच्छी आदतें विकसित होगी |
  10. अभिप्रेरणा के द्वारा छात्रों मे ज्ञान प्राप्ति तथा कौशल की इच्छा उत्पन्न होता है |
  11. चरित्र निर्माण मे शिक्षा |

🍁 अभिप्रेरणा का शिक्षा मे उपयोग🍁

  1. विधार्थी के व्यवहार को बदलने की अपेक्षा उसकी भावना को बदलें |
  2. ऐसी कोई बात बच्चों से ना कहे जिससे विद्यार्थी मे हीन भावना उत्पन्न हो |
  3. बच्चों का सम्मान करना चाहिए |
  4. आप उनकी आवश्यकता की पूर्ति कर सकते हैं तो जरूर करिये |
  5. प्रसंशा, पुरुष्कार, दण्ड आदि को कभी कभी अपने शिक्षण का अंग ना बनाये | अर्थात् उनका उपयोग उस परिस्तिथि मे करें जब इनकी उचित आवश्यकता पड़े |
  6. उन गुणों का अनुसरण हमे स्वयं करना चाहिए जिसे भावना की दृष्टि से हम बच्चों से उम्मीद करते है |
  7. जल्दी जल्दी पुरुष्कार/ प्रसंशा करना ठीक नहीं |
  8. बच्चों की भावना का दमन नही करना चाहिए |
  9. दण्ड और भत्सना का प्रयोग तभी करना चाहिए जब कार्य नियम के विरूद्ध हो और , कोई और उत्प्रेरक काम ना करे |
  10. पुरुस्कार और दण्ड समूह मे दिया जाये जबकि दण्ड अकेले मे |
  11. आयु और लिंग का ध्यान रखा जाये |
  12. दण्ड देना हो तो शारीरिक/ आर्थिक दण्ड न देकर पढ़ने का दण्ड दिया जाये |
  13. बाहरी उत्प्रेरक से ज्यादा आंतरिक उत्प्रेरक हो |
  14. सामूहिक बातो को सभी से, वैयक्तिक बातो की संबंधित विद्यार्थी से कहा जाये |

15.सदैव निष्पक्ष व्यवहार करें |

📝📝नोटस बाय➖ निधि तिवारी🌿🌿🌿

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.