👨🏻‍🏫गार्डनर का बहुआयामी सिद्धांत👨🏻‍🏫
👁️Multiple intelligence of Gardner👁️

🌼 और सांस्कृतिक अनुसंधान की सहायता से समस्या को हल करने की क्षमता बुद्धि कहलाती है।

🧠गार्डनर ने बुद्धि को आठ प्रकार से बताया है🧠

🌠1️⃣➡️(Musical Intelligence)
सर ,लय- ताल ,स्वर ,संगीत इत्यादि की संवेदनशीलता का ज्ञान होना ही सांगीतिक बुद्धि कहलाता है।

💦जैसे÷प्रत्येक प्राणी में विभिन्न प्रकार की विशेषताएं होती हैं किसी व्यक्ति को डांस करने में रूचि होती है तो किसी व्यक्ति को संगीत करने में रुचि होती है।

🌠2️⃣➡️ गणितीय बुद्धि (Logical Mathmatical Intelligence)

💨तर्क लगाना किसी कार्य के पैटर्न लगाने की क्षमता गणितीय सोच इत्यादि कार्यों को करने में लगाई गईं बुद्धि तार्किक गणितीय बुद्धि कहलाती है

💦जैसे ÷तार्किक गणितीय बुद्धि का प्रयोग गणित के विभिन्न प्रश्नों को हल करने में प्रयोग करते हैं इसके साथ ही अन्य जगहों पर या अन्य कार्यों पर भी हम समस्या का समाधान करने के लिए इस प्रकार की बुद्धि का प्रयोग करते हैं।

🌠3️⃣➡️ बुद्धि (Linguistics Intelligence)

💨भाषाई बुद्धि भाषा की समाज व भाषा में निपुणता ही भाषा की विधि कहलाती है।
प्रत्येक व्यक्ति की भाषाएं बुद्धि भी अलग-अलग होती है ।

💦जैसे ÷किसी व्यक्ति को हिंदी भाषा का पूर्ण ज्ञान है तो किसी व्यक्ति को अंग्रेजी भाषा का पूर्ण ज्ञान है, या फिर अन्य व्यक्ति को विभिन्न प्रकार की भाषाओं का ज्ञान होना।

🌠4️⃣➡️ बुद्धि (Spatial intelligence)

💨समस्या को हल करने के लिए मानसिक छवियों को जोड़ तोड़ कर नई छवि बनाना और किसी छवि को समझना स्थानिक बुद्धि कहलाती है।
इस प्रकार की बुद्धि में दिशाओं का ज्ञान भी होता है।

💦जैसे ÷किसी व्यक्ति को इलाहाबाद से कानपुर ट्रांसपोर्ट के माध्यम से जाना है तो उसे रास्ते का ज्ञान वा दिशा का भी ज्ञान होना आवश्यक होता है,तभी वह मंजिल तक पहुंच सकेगा।

🌠5️⃣➡️ गति संवेदी बुद्धि(Physical and speed sensitive intelligence)

💨किसी भी शारीरिक क्षमता और मानसिक क्षमता के समन्वय की प्रक्रिया इस बुद्धि के अंतर्गत आती है।

💦जैसे ÷खिलाड़ियों में पाई जाने वाली बुद्धि शारीरिक गतिविधि बुद्धि होती है क्योंकि वह अपने खेल में शरीर के साथ -साथ ही बुद्धि का प्रयोग भी करते हैं; क्रिकेटर, फुटबालर, जिम्नास्टिक,टेबल-टेनिस इत्यादि खिलाड़ी।

🌠6️⃣➡️ बुद्धि (Personal intellegence)

💨किसी दूसरे इंसान की भावना ,इरादों क्षमता, रुचि ,नजरिया,हाव-भाव,पहनावा,बोल-चाल भाषा इत्यादि के आधार पर उसका आकलन करना ही व्यक्तिगत बुद्धि कहलाता है।

💦जैसे ÷डॉक्टर अपने रोगी को देख कर ही समझ जाता है कि यह व्यक्ति पीड़ा से परेशान है और वह तुरंत ही उसका उपचार करने की कोशिश करता है,
इंजीनियर द्वारा किसी व्यक्ति की भावनाओं व उसकी रुचि के अनुसार नक्शे का प्रतिपादन करके घर का निर्माण करना ।

🌠7️⃣➡️: व्यक्तिक बुद्धि(Intra personal Intelligence)

💨इस प्रकार की बुद्धि में अपनी भावना, रुचि ,प्रेरणा इत्यादि को समझना कि अंत: व्यक्तिक बुद्धि कहलाती है।

💦जैसे÷आपको अगर साहित्य में रुचि है तो यह आप ही समझ सकते हैं आप से बेहतर कोई नहीं समझ सकता कि आपको साहित्य में रुचि है या अन्य किसी काम में।

🔥Note÷प्राकृतिक बुद्धि को सन् 1995 में जोड़ा गया था।

🌠8️⃣➡️ बुद्धि (Natural Intelligence)

💞वनस्पतियो वा पेड़ पौधौ की समझ

💞जीव -जंतुओ की समझ

💞उत्पादकता की समझ

💞पर्यावरण की समझ

💞वायुमंडल की समझ

🔥नोट÷ अस्तित्व वाही बुद्धि को सन् 2000 में जोड़ा गया था।

💦जैसे ÷आपको अगर पता है कि पृथ्वी को प्रदूषण मुक्त करने के लिए पेड़ पौधों का प्रयोग वा प्रदूषण करने वाले विभिन्न साधनों का प्रयोग कम करना चाहिए क्योंकि पेड़ पौधे हैं तभी पृथ्वी पर जीवन संभव है ।

🌠9️⃣➡️ वाही बुद्धि(Existential Intelligence)

💨मानव संसार में छिपे रहस्य को जिंदगी मृत्यु तथा मानव की वास्तविकता को जानने की क्षमता को ही वास्तविक वाही बुद्धि कहते हैं।

💨दार्शनिक के पास इसी प्रकार की बुद्धि पाई जाती है।
विभिन्न प्रकार के खगोल शास्त्रियों के पास भी इसी प्रकार की विधि पाई जाती है।
वैज्ञानिक के पास भी इसी प्रकार की विधि पाई जाती है।

💦जैसे ÷खगोल शास्त्री विभिन्न जगहों पर खुदाई करके पुरातत्व अवशेषों को प्राप्त करके उन पर विभिन्न तथ्य देना व प्रयोग के द्वारा यह पता करना कि यह यह कितने वर्ष पुराना है यह कितने वर्ष पहले या सभ्यता थी इत्यादि।

Thank you
Written by ➡️ Shikhar pandey

🌸 बहु बुद्धि सिद्धांत🌸
🌸 Multiple intelligence🌸

जैविक और सांस्कृतिक अनुसंधानो के माध्यम से या सहायता से समस्या को हल करने की क्षमता बुद्धि कहलाती है।

गार्डनर ने बहु बुद्धि का सिद्धांत प्रतिपादित किया। इन्होंने 7 मूल प्रकार की बुद्धियों के बारे में बात की।

1️⃣ संगीतिक बुद्धि ( musical intelligence )
* इस तरह की बुद्धि का संबंध संगीत से होता है।
* इस तरह की बुद्धि में लय को, सूर को सही सही ढंग से प्रत्यक्षण करने की क्षमता सम्मिलित होती है ।
* इसमें धुन,स्वर, संगीत आदि के संवेदनशीलता का भी ज्ञान होता है ।
* इस तरह की बुद्धि संगीतकार तथा गीतकार में अधिक होती है।

2️⃣ तार्किक गणितीय बुद्धि ( logical mathematical intelligence )
* इस तरह की बुद्धि में तर्क करने की क्षमता, गणितीय समस्याओं का समाधान करने की क्षमता।
* अंकों के पीछे छिपे संबंध को पहचानने की क्षमता ।
* सादृश्यता की क्षमता आदि सम्मिलित होती है।
* ऐसी बुद्धि प्राय: गणितज्ञ वैज्ञानिक एवं अभियंताओं में देखने को मिलती है।

3️⃣ भाषाई बुद्धि ( linguistic intelligence )
* भाषाई बुद्धि में वाक्य तथा शब्दों की बौद्धिक क्षमता ।
* शब्दावली, शब्दों के क्रमो के बीच के संबंधों को पहचानने की क्षमता आदि सम्मिलित होती है।
* इस प्रकार की बुद्धि कवि अध्यापक इतिहासकार वकीलों में पाई जाती है।

4️⃣ स्थानिक बुद्धि ( spatial intelligence)
*समस्या को हल करने के लिए मानसिक छवियों को जोड़ तोड़ कर नहीं छवियां बनाना और किसी छवि को समझना स्थानिक बुद्धि है।
* इसमें स्थानिक चित्र को मानसिक रूप से परिवर्तित करने की क्षमता तथा स्थानिक कल्पना शक्ति करने की क्षमता आदि सम्मिलित होती है।
* इस प्रकार की बुद्धि में चित्रकार , मूर्तिकार, कलाकार आते हैं।

5️⃣ शारीरिक गति संवेदी बुद्धि ( physical speed sunsation intelligence )
* किसी भी शारीरिक क्षमता और मानसिक क्षमता के समन्वय की प्रक्रिया इस बुद्धि के अंतर्गत आते हैं।
* इस तरह की बुद्धि में शारीरिक गति पर नियंत्रण रखने की बुद्धि तथा वस्तुओं को सावधानीपूर्वक एवं प्रवीण ढंग से घुमाने तथा उपयोग करने की क्षमता सम्मिलित होती है।
*इस तरह की बुद्धि खिलाड़ी, योगाचार्य , नृत्यकार में होती है।

6️⃣ व्यक्तिगत बुद्धि /अंतर्वेक्ति बुद्धि ( personal intelligence / interpersonal intelligence)
*किसी अन्य व्यक्ति की प्रेरणा, इच्छाओं एवं आवश्यकताओं को समझने की क्षमता।
* उनकी मनोदशा और चित्त प्रकृति समझने मॉनिटर करके किसी नई परिस्थिति में किस तरीके से व्यवहार करेगा के बारे में पूर्व कथन करने की क्षमता आदि इस तरह की बुद्धि में आती है।

7️⃣ अंतः व्यक्तिक बुद्धि ( intrapersonal intelligence)
*अपनी भावना, रुचि ,प्रेरणा को समझना।
*इस प्रकार की बुद्धि में अपने संवेगो को समझना और उन में विभेद करने की क्षमता तथा मानव व्यवहार को निर्देशित करने में उन सूचनाओं के प्रयोग करने की क्षमता सम्मिलित होती है।

8️⃣ प्रतिवादी बुद्धि ( natural intelligence )
*गार्डनर ने इस प्रकार की बुद्धि के बारे में सन 1998 में बताया।
*प्रकृति, वनस्पति, जीव मैं मौजूद तत्वों को समझना।
* उत्पादकता, पर्यावरण को समझना ।
*वायुमंडल की समझ।
*इस तरह की बुद्धि किसान, खगोल शास्त्री ,वैज्ञानिकों में होती है।

9️⃣ अस्तित्व वादी बुद्धि (extential intelligence )
*गार्डनर ने बुद्धि के इस प्रकार को सन 2000 में संशोधन करके जुड़ा।
*मानस संसार के बारे में छिपे रहस्यों को, जिंदगी ,मौत तथा मानव अनुभूति की वास्तविकता के बारे में प्रश्न पूछ कर जानने की क्षमता।
*इस प्रकार की बुद्धि योगियों, दर्शन शास्त्रियों, संतों में पाई जाती है।

🔹धन्यवाद
द्वारा वंदना शुक्ला

🏞️✨ गार्डनर का बहु वुध्दि सिद्धांत ✨🌄

☀️ समस्या को हल करने की तकनीक क्षमता।
👉 जैविक तथा सांस्कृतिक अनुसंधानों की सहायता से समस्या को हल करने की क्षमता वुध्दि कहलाती है।

💥 गार्डनर ने वुध्दि को पहले 7 प्रकार की वुध्दियो का वर्णन किया बाद में उन्होंने दो और वुध्दि को सम्मिलित किया जो निम्न प्रकार से है……

✨🌼1️⃣संगीतिक वुध्दि (Musical Intelligence) 🌼✨
🍁 इस वुध्दि में ध्वनि,लय,स्वर, संगीत आदि की संवेदनशीलता का ज्ञान होता है।

🌼✨2️⃣ तार्किक गणितीय वुध्दि ✨🌼
तर्क लगाना या किसी कार्य के पैटर्न लगाने की क्षमता गणितीय सोच इत्यादि इसके अन्तर्गत आता है।

✨🌹3️⃣भाषायी वुध्दि 🌹✨
भाषा की समझ व निपुणता ही भाषायी वुध्दि है

💥☀️4️⃣ स्थानिक वुध्दि ☀️💥
समस्या को हल करने के लिए मानसिक छवियों को जोड़ तोड़ कर नई छवि बनाना और किसी छवि को समझना स्थानिक वुध्दि है।

☃️🍁5️⃣ शारीरिक गतिसंवेदी वुध्दि 🍁☃️
किसी भी शारीरिक क्षमता और मानसिक क्षमता के समन्वय की प्रक्रिया इस वुध्दि के अन्तर्गत आते हैं।

🌻💥6️⃣ व्यक्तिगत वुध्दि 💥🌻
दूसरे इंसान की भावनाओं, इरादों, क्षमता नजरिया को समझना। तथा इसे अन्तवैयक्तिक वुध्दि भी कहा जाता है।

🌼🌹7️⃣अन्तः वैयक्तिक वुध्दि 🌹🌼
अन्तःवैयक्तिक वुध्दि में व्यक्ति की स्वंय की भावना, रूचि, प्रेरणा को समझना।

✨💫8️⃣ प्राकृतिक वुध्दि 💫✨
प्राकृतिक वुध्दि में हमें उत्पादकता, वायुमंडल, वनस्पति जीव की समझ तथा पर्यावरण की समझ होती है।

💥✨9️⃣ अस्तित्व वादी वुध्दि ✨💥
मानव संसार में, छिपे रहस्य को समझना, जिंदगी व मौत तथा मानव की वास्तविकता है को जानने की क्षमता।

🌺🌺🌺🌺🌺Notes by—– Babita yadav 🌸🌸🌸🌸🌸

🌼🌼गार्डनर का बहुबुद्धि सिद्धांत🌼🌼
🌼🌼Multiple intelligence 🌼🌼

🌼जैविक और सांस्कृतिक अनुसंधान की सफलता से समस्या को हल करने की क्षमता बुद्धि कहलाती है
🌼🌼इन्होंने बुद्धि के 8 प्रकार बताये है..

🌼 1. संगीतिक बुद्धि ( musical intelligence) –ध्वनि ,लय ,ताल ,स्वर, संगीत की संवेदनशीलता का ज्ञान होना संगीत बुद्धि कहलाती है

🌼2. तार्किक गणितीय बुद्धि (logical mathematical intelligence)–तर्क लगाना ,किसी भी कार्य के पैटर्न को लगाने की क्षमता, गणितीय सोच इत्यादि ।।

🌼3. भाषाई बुद्धि (linguistic intelligence)–भाषा की समझ और निपुणता भाषाई बुद्धि कहलाती है

🌼4.स्थानीय बुद्धि –समस्या को हल करने के लिए मानसिक छवियों को जोड़-तोड़ कर नई छवि को समझना स्थानिक बुद्धि कहलाती है

🌼5. शारीरिक गति संवेदी बुद्धि –शारीरिक और मानसिक क्षमता के समन्वय की प्रक्रिया इस बुद्धि के अंतर्गत आती है

🌼6.व्यक्तिगत बुद्धि– दूसरे इंसान की भावनाओं, इरादों, क्षमता, नजरिया को समझना व्यक्तिगत बुद्धि कहलाती है

🌼7. अंतः वैयक्तिक बुद्धि– इसमे अपनी भावना, रुचि, प्रेरणा को समझना अंतः वैयक्तिक बुद्धि कहलाती है इसी मूल बुद्धि भी भी बुद्धि भी भी कहते हैं

🌼8.प्राकृतिक बुद्धि –(1995) -वनस्पति, जीव की समझ, उत्पादकता , पर्यावरण की समझ, वायुमंडल आदि प्राकृतिक बुद्धि कहलाती है

🌼9.अस्तित्वादी बुद्धि-( 2000) –मानव संसार में ,छिपे रहस्य को जिंदगी मौत तथा मानव वास्तविकता है वह जाने की क्षमता की अस्तित्ववाद बुद्धि कहलाती है यह दार्शनिक बुद्धि है

By manjari soni🌼

🌸 बहु बुद्धि सिद्धांत🌸
🌸 Multiple intelligence🌸

जैविक और सांस्कृतिक अनुसंधानो के माध्यम से या सहायता से समस्या को हल करने की क्षमता बुद्धि कहलाती है।

गार्डनर ने बहु बुद्धि का सिद्धांत प्रतिपादित किया। इन्होंने 7 मूल प्रकार की बुद्धियों के बारे में बात की।

1️⃣ संगीतिक बुद्धि ( musical intelligence )
* इस तरह की बुद्धि का संबंध संगीत से होता है।
* इस तरह की बुद्धि में लय को, सूर को सही सही ढंग से प्रत्यक्षण करने की क्षमता सम्मिलित होती है ।
* इसमें धुन,स्वर, संगीत आदि के संवेदनशीलता का भी ज्ञान होता है ।
* इस तरह की बुद्धि संगीतकार तथा गीतकार में अधिक होती है।

2️⃣ तार्किक गणितीय बुद्धि ( logical mathematical intelligence )
* इस तरह की बुद्धि में तर्क करने की क्षमता, गणितीय समस्याओं का समाधान करने की क्षमता।
* अंकों के पीछे छिपे संबंध को पहचानने की क्षमता ।
* सादृश्यता की क्षमता आदि सम्मिलित होती है।
* ऐसी बुद्धि प्राय: गणितज्ञ वैज्ञानिक एवं अभियंताओं में देखने को मिलती है।

3️⃣ भाषाई बुद्धि ( linguistic intelligence )
* भाषाई बुद्धि में वाक्य तथा शब्दों की बौद्धिक क्षमता ।
* शब्दावली, शब्दों के क्रमो के बीच के संबंधों को पहचानने की क्षमता आदि सम्मिलित होती है।
* इस प्रकार की बुद्धि कवि अध्यापक इतिहासकार वकीलों में पाई जाती है।

4️⃣ स्थानिक बुद्धि ( spatial intelligence)
*समस्या को हल करने के लिए मानसिक छवियों को जोड़ तोड़ कर नहीं छवियां बनाना और किसी छवि को समझना स्थानिक बुद्धि है।
* इसमें स्थानिक चित्र को मानसिक रूप से परिवर्तित करने की क्षमता तथा स्थानिक कल्पना शक्ति करने की क्षमता आदि सम्मिलित होती है।
* इस प्रकार की बुद्धि में चित्रकार , मूर्तिकार, कलाकार आते हैं।

5️⃣ शारीरिक गति संवेदी बुद्धि ( physical speed sunsation intelligence )
* किसी भी शारीरिक क्षमता और मानसिक क्षमता के समन्वय की प्रक्रिया इस बुद्धि के अंतर्गत आते हैं।
* इस तरह की बुद्धि में शारीरिक गति पर नियंत्रण रखने की बुद्धि तथा वस्तुओं को सावधानीपूर्वक एवं प्रवीण ढंग से घुमाने तथा उपयोग करने की क्षमता सम्मिलित होती है।
*इस तरह की बुद्धि खिलाड़ी, योगाचार्य , नृत्यकार में होती है।

6️⃣ व्यक्तिगत बुद्धि /अंतर्वैयक्तिक बुद्धि ( personal intelligence / interpersonal intelligence)
*किसी अन्य व्यक्ति की प्रेरणा, इच्छाओं एवं आवश्यकताओं को समझने की क्षमता।
* उनकी मनोदशा और चित्त प्रकृति समझने मॉनिटर करके किसी नई परिस्थिति में किस तरीके से व्यवहार करेगा के बारे में पूर्व कथन करने की क्षमता आदि इस तरह की बुद्धि में आती है।

7️⃣ अंतः व्यक्तिक बुद्धि ( intrapersonal intelligence)
*अपनी भावना, रुचि ,प्रेरणा को समझना।
*इस प्रकार की बुद्धि में अपने संवेगो को समझना और उन में विभेद करने की क्षमता तथा मानव व्यवहार को निर्देशित करने में उन सूचनाओं के प्रयोग करने की क्षमता सम्मिलित होती है।

8️⃣ प्रकृतिवादी बुद्धि ( natural intelligence )
*गार्डनर ने इस प्रकार की बुद्धि के बारे में सन 1998 में बताया।
*प्रकृति, वनस्पति, जीव मैं मौजूद तत्वों को समझना।
* उत्पादकता, पर्यावरण को समझना ।
*वायुमंडल की समझ।
*इस तरह की बुद्धि किसान, खगोल शास्त्री ,वैज्ञानिकों में होती है।

9️⃣ अस्तित्व वादी बुद्धि (extential intelligence )
*गार्डनर ने बुद्धि के इस प्रकार को सन 2000 में संशोधन करके जुड़ा।
*मानस संसार के बारे में छिपे रहस्यों को, जिंदगी ,मौत तथा मानव अनुभूति की वास्तविकता के बारे में प्रश्न पूछ कर जानने की क्षमता।
*इस प्रकार की बुद्धि योगियों, दर्शन शास्त्रियों, संतों में पाई जाती है।

🔹धन्यवाद
द्वारा वंदना शुक्ला

🔆 गार्डनर का बहुबुद्धि सिद्धांत ( Multiple Intelligence ) ➖

गार्डनर अमेरिका के मनोवैज्ञानिक थे इनके अनुसार जैविक और सांस्कृतिक अनुसंधान की सफलता से समस्या हल करने की क्षमता बुद्धि के कहलाती है |

गार्डनर के अनुसार सभी में अलग-अलग प्रकार की बुद्धि होती है उसी में से किसी के पास विशिष्ट योग्यता होती है जिसे बुद्धि कहा जाता है |

अलग-अलग परिस्थिति में अलग-अलग प्रकार से सोचना और उसी प्रकार से अपनी ज्ञान क्षमता का प्रयोग करना बुद्धि कहलाती है प्रत्येक व्यक्ति में एक विशिष्ट योग्यता होती है जिसको यदि पहचानना आ गया तो इंसान उस क्षेत्र में अच्छा कर सकता है |

गार्डनर ने बुद्धि के 7 मूल सिद्धांत बताए हैं जो कि निम्न प्रकार से हैं➖

1) सांगीतिक बुद्धि (Musical Intelligence)

2) तार्किक गणितीय बुद्धि (Logical Methameticaly Intelligence)

3) भाषाई बुद्धि (Languastic Intelligence)

4) स्थानिक बुद्धि (Spatial Intelligence)

5) शारीरिक गति संवेदी बुद्धि (Physical Spread Sensitive Intelligence)

6) अंतर्वैयक्तिक बुद्धि (Interpersonal Intelligence)

7) अंत: वैयक्तिक बुद्धि (Intrapersonsl Intelligence)

8) प्राकृतिक बुद्धि (Nature lntelligance) 1995

9) अस्तित्ववादी बुद्धि (Existential Intelligence) 2000

🎯 सांगीतिक बुद्धि ➖

ध्वनि , सुर, लय, संगीत आदि की संवेदनशीलता का ज्ञान होना सांगीतिक बुद्धि है |

इस प्रकार की बुद्धि जिसमें हम किसी ध्वनि के सुर, लय ,ताल, स्वर आदि के पहचान करते हैं और ध्वनि की गति ,आरोह, अवरोह ,को समझना ही सांगीतिक बुद्धि है |

🎯 तार्किक गणितीय बुद्धि➖

किसी भी कार्य को तर्क लगाकर हल करना , किसी कार्य का पैटर्न लगाने की क्षमता, गणितीय सोच इत्यादि तार्किक गणितीय बुद्धि के अंतर्गत आते हैं |

🎯 भाषाई बुद्धि➖

भाषा की समझ/ निपुणता ही भाषाई बुद्धि है |

इसमें शब्दावली का क्रम ,चयन आदि का ज्ञान होना भाषाई बुद्धि के अंतर्गत आता है शब्दों का चयन ,वाक्यों का चयन ,शब्दावली आदि का चुनाव भी भाषाई बुद्धि है | उदाहरण जैसे लेखक |

🎯 स्थानिक बुद्धि➖

समस्या को हल करने के लिए मानसिक छवियों को जोड़ तोड़ कर नई छवि बनाना और किसी छवि को समझना स्थानिक बुद्धि है |
जैसे इंजीनियर, मूर्तिकार, चित्रकार ,आदि की बुद्धि |

🎯 शारीरिक गति संवेदी बुद्धि➖

किसी भी शारीरिक क्षमता और मानसिक क्षमता के समन्वय की प्रक्रिया इस बुद्धि के अंतर्गत आती है |

परिस्थिति या भाव के अनुसार अपने शरीर के अंगो का परिचालन या व्यक्त करने का तरीका ही शारीरिक गति संवेदी बुद्धि है |

🎯 अंतर्वैयक्तिक बुद्धि➖

दूसरे इंसान की भावनाओं, इरादों, क्षमताओं ,और नजरिए को समझना ,दूसरों की बुद्धि के अनुसार लोगों को समझना या पहचानना ही अंतर्वैयक्तिक बुद्धि है | जैसे डाॅक्टर, शिक्षक, नेता, मनोवैज्ञानिक |

🎯 अन्त: वैयक्तिक बुद्धि➖

अपनी भावना, रुचि, प्रेरणा आदि को समझना ,स्वयं की बुद्धि के अनुसार दूसरों की पहचान करना नहीं अंतःवैयक्तिक बुद्धि है | जैसे साधु – संत |

🎯 प्राकृतिक बुद्धि (1995 )

जो प्रकृति को समझना है अर्थात जो वनस्पति और जीव की समझ, उत्पादकता ,पर्यावरण की समझ, वायुमंडल की समझ इत्यादि के ज्ञान की योग्यता ही प्राकृतिक बुद्धि है यदि आप प्रकृति को समझते हैं उस से प्रेम करते हैं तो उसके अंतर्गत प्राकृतिक बुद्धि आती है |

जैसे किसान जीव – वैज्ञानिक खगोल शास्त्री इत्यादि प्राकृतिकं बुद्धि है |

🎯 अस्तित्ववादी बुद्धि (2000) ➖

मानव संसार में छिपे रहस्य को, जिंदगी, मौत ,तथा मानव की वास्तविकता को जानने की क्षमता अस्तित्व वादी बुद्धि है |यदि व्यक्ति को स्वयं के अस्तित्व को पहचानने की क्षमता है तो वह अस्तित्व वादी बुद्धि के अंतर्गत है |

नोट्स बाॅय➖ रश्मि सावले

🌻🌼🌺🌸🍀🌻🌼🌺🌸🍀🌻🌼🌺🌸🍀🌻🌼🌺🌸🍀

🌹 बहु बुद्धि का सिद्धांत 🌹

प्रतिपादक :- गार्डनर 1983 ( अमेरिका )

जैविक और सांस्कृतिक अनुसंधानों की सहायता से समस्या को हल करने की क्षमता ही बुद्धि कहलाती है।

🌲 गार्डनर के बहुबुद्धि सिद्धांत के निम्नलिखित प्रकार :-

🌻 मूल बुद्धि सिद्धांत 🌻

1. सांगीतिक बुद्धि musical intelligence. :-

इसका संबंध संगीत से होता है। जैसे :-
ध्वनि , लय , स्वर ,संगीत आदि की संवेदनशीलता का ज्ञान होना ही सांगीतिक बुद्धि है।

हाँलाकि ये सभी में निहित होती है पर , जो ” संगीतज्ञ ” होते हैं उनमें सांगीतिक बुद्धि विशेष तौर पर पाई जाती है।

2. तार्किक गणितीय / आंकिक बुद्धि. Logical mathematical. Intelligencr. :-

तर्क लगाना , किसी कार्य के पैटर्न लगाने की क्षमता , गणितीय सोच , तर्क करने की क्षमता , अंको को पहचानने की क्षमता इत्यादि तार्किक गणितीय बुद्धि से संबंधित हैं।

इसमें आते हैं :-
गणितज्ञ
वैज्ञानिक
अभियंता (Engineer)
वकील।

3. भाषाई बुद्धि Linguist. :-

भाषा की समझ / निपुणता भाषाई बुद्धि है।
इसमें शब्दों व वाक्यों के बौध की क्षमता होती है।

इनमें आते हैं :-
कवि
अध्यापक
वकील
इतिहासकार ।

4. स्थानिक बुद्धि spatial intelligence. :-

समस्याओं को हल करने के लिए मानसिक छवियों को जोड़ – तोड़ कर नई छवि बनाना और किसी छवि को समझना ही स्थानिक बुद्धि है।
स्थानिक बुद्धि में कल्पना शक्ति की योग्यता होती है। अर्थात कल्पना करने की योग्यता पाई जाती हैं।

इसमें आते हैं :-
चित्रकार
मूर्तिकार
कवि
कलाकार ।

5. शारीरिक गतिसंवेदी बुद्धि Physical speed – sensitive intelligence. :-

किसी भी शारीरिक क्षमता और मानसिक क्षमता के समन्वय की प्रक्रिया इस बुद्धि के अंतर्गत आती है। शारीरिक गति संवेदी बुद्धि वाले व्यक्तियों मैं अपने शरीर पर नियंत्रण रहता है।

इसमें आते हैं :-
खिलाड़ी
योगाचार्य
नृत्यकार ।

6. अंतर्वैयक्तिक / वैयक्तिक बुद्धि interpersonal intelligence :-

दूसरे व्यक्तियों की भावनाओं , इरादों , क्षमताओं , नजरिया आदि को समझना ही अंतर्वैयक्तिक बुद्धि है।

इसमें आते हैं :-
मनोचिकित्सक
मनोवैज्ञानिक

7. अंतःवैयक्तिक बुद्धि interpersonal intelligence :-

अपनी भावना , रुचि , प्रेरणा को समझना अर्थात स्वयं को समझना ही अंतःवैयक्तिक बुद्धी है।

🌻. आधुनिक बुद्धि :- 🌻

8. प्राकृतिक बुद्धि nature intelligence. :-
(सन् 1995 में दी)

वनस्पति , जीव की समझ , उत्पादकता , पर्यावरण की समज , वायुमण्डलीय समझ ।

इसमें आते हैं :-

ख़ागोलशास्त्री
जीव वैज्ञानिक
कृषक
वनस्पति वैज्ञानिक
मौसम वैज्ञानिक
भूगर्भ वैज्ञानिक ।

9. अस्तित्ववादी बुद्धि Existential intelligence. (सन् 2000 में दी)

मानव संसार के छुपे रहस्यों को , जिंदगी , मौत तथा मानव की वास्तविकता को जानने की क्षमता को समझने चाहती है ।

इसमें आते हैं :-
योगी
दर्शनशास्त्री
संत।

🌺 ✒️ Notes by -जूही श्रीवास्तव ✒️🌺

⛳Multiple intelligence⛳
🌸बहु बुद्धि सिद्धांत🌸
★ इस सिद्धांत के प्रतिपादक हावर्ड गार्डनर थे।
★यह सिद्धांत 1983 में दिया गया।
👉🏻 गार्डनर ने कहा कि जैविक और सांस्कृतिक अनुसंधान से समस्या को हल करने की क्षमता बुद्धि कहलाती है।
👉🏻गार्डनर के अनुसार बुद्धि एकांकी ना होकर बहू कारकीय होती हैं।
गार्डनर के अनुसार बुद्धि में 7 तत्व होते हैं जो निम्न प्रकार है—
1. सांगीतिक बुद्धि ( musical intelligence)
2. तार्किक गणितीय बुद्धि ( logical mathematical intelligence)
3. भाषाई बुद्धि ( linguistic intelligence)
4. स्थानिक बुद्धि (spatial intelligence)
5. शारीरिक गति संवेदी बुद्धि ( physical speed sensitive intelligence)
6. व्यक्तिगत बुद्धि ( personal intelligence)
7. अंतः व्यक्तिक बुद्धि ( intera personal intelligence)
★ बाद में गार्टनर ने 1995 आठवां कारक दिया-
8. प्राकृतिक बुद्धि ( natural intelligence)
★ और बाद में सन 2000 में गार्डनर ने बुद्धि का नौवा कारक दिया—
9. अस्तित्व बाती बुद्धि ( Existential intelligence)
1. सांगीतिक बुद्धि ( ध्वनि, लय,स्वर, संगीत की संवेदनशीलता का ज्ञान सांगीतिक बुद्धि कहलाती है
जिन व्यक्तियों में इस प्रकार की बुद्धि होती है वे संगीतकार, गीतकार, भजनकार आदि होते हैं।
2. तार्किक गणितीय बुद्धि ( logical mathematical intelligence) — तर्क लगाना किसी कार्य के पैटर्न को समझना गणितीय सोच इत्यादि की क्षमता तार्किक गणितीय बुद्धि कहलाती है यह बुद्धि सिर्फ गणित से संबंध नहीं रखती बल्कि जीवन के हर क्षेत्र में तार्किक बुद्धि का प्रयोग होता है।
तार्किक बुद्धि से युक्त लोग वैज्ञानिक गणितज्ञ engineer आदि बनते हैं।
3. भाषाई बुद्धि( linguistic intelligence) — शब्दों और वाक्यों की बौद्धिक क्षमता, भाषा के समझ, भाषा में निपुणता, अपनी बातों को व्यक्त करने की क्षमता ,आदि की योग्यता भाषाई बुद्धि कहलाती है।
जैसे— कवि,अध्यापक, वकील,इतिहासकार।
4. स्थानिक बुद्धि ( spatial intelligence) — कल्पना करने की योग्यता ,समस्या को हल करने के लिए मानसिक छवियों को जोड़-तोड़ कर नई छवि बनाना और किसी भी छवि को समझना आदि स्थानिक बुद्धि कहलाता है
उदाहरण— चित्रकार, मूर्तिकार, कवि.
5. शारीरिक गति संवेदी बुद्धि ( physical speed sensitive intelligence)— किसी भी शारीरिक क्षमता और मानसिक क्षमता के समन्वय की प्रक्रिया इस बुद्धि के अंतर्गत आते हैं।
जैसे— खिलाड़ी नृतक,।
6. व्यक्तिगत बुद्धि ( personal intelligence) — इस बुद्धि को अंतर व्यक्तिक बुद्धि भी बोल सकते हैं.
किसी दूसरे व्यक्ति की भावनाओं,इरादों, क्षमता, नजरिया को समझने की क्षमता व्यक्तिक बुद्धि कहलाती है।
7. अंतः व्यक्तिक बुद्धि ( intra personal intelligence) — अपने खुद की भावना, रुचि, प्रेरणा आदि को समझने की क्षमता, अंतः व्यक्तिक बुद्धि कहलाती हैं.
9. प्राकृतिक बुद्धि ( nature intelligence) — प्रकृति में मौजूद तत्वों को समझना, वनस्पति, जीव की समझ, उत्पादकता,पर्यावरण की समाझ, वायुमंडल की समाझ आदि की समझ की क्षमता प्राकृतिक बुद्धि कहलाती है..
जैसे- खगोल शास्त्री, वनस्पति वैज्ञानिक, जीव मनोवैज्ञानिक, मौसम वैज्ञानिक.
9. अस्तित्ववादी बुद्धि ( Existential intelligence) — मानव संसार में छिपे रहस्य को, जिंदगी, मौत तथा मानव की वास्तविकता को जानने की क्षमता अस्तित्व वादी बुद्धि कहलाती है.
जैसे- दार्शनिक, योगी ,संत।

Notes by Shivee Kumari😊

🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸

🤔गार्डनर का बहुबुद्धि सिद्धांत🤔
multiple intelligence
(1983)
गार्डनर अमेरिका के थे

7+1+1
समस्या को हल करने की तकनीक क्षमता

,”जैविक और सांस्कृतिक अनुसंधानो की सहायता से समस्या हल करने की छमता बुद्धि कहलाती है”

गार्डनर ने आठ प्रकार की बुद्धि के बारे में बताया है

🤔मूल बुद्धि 🤔
1 सांगीतिक बुद्धि (musical intelligence)

जिस व्यक्ति में धनी लाल संगीत की संवेदनशीलता का ज्ञान होता है उस व्यक्ति में यह बुद्धि पाई जाती है

2 तार्किक गणितीय बुद्धि (logical mathematical intelligence)

यह बुद्धि उन व्यक्तियों में पाई जाती हैं जो तर्क लगाते हैं किसी कार्य को एक ढंग से नहीं अनेक प्रकार से करते हैं अपनी सृजनात्मकता दिखाते हैं किसी समस्या का हल अनेक तरीके से ढूंढते हैं उनमें यह बुद्धि पाई जाती है

3 भाषाई बुद्धि (linguistic intelligence)

जिस व्यक्ति में भाषा की अच्छी समझ होती है भाषा में अच्छी निपुणता होती है जिस व्यक्ति में भाषाई बुद्धि पाई जाती है वह भाषाई बुद्धि में आता है इस प्रकार की बुद्धि में ज्यादातर लेखक आते हैं

4 स्थानिक बुद्धि (spatial intelligence)

समस्या को हल करने के लिए मानसिक छवियों को जोड़ तोड़ कर नई छवि का समझना स्थानिक बुद्धि कहलाती है

5 शारीरिक गति संवेदी बुद्धि

किसी भी शारीरिक क्षमता और मानसिक क्षमता के समन्वय की प्रक्रिया इस बुद्धि के अंतर्गत आती है

6 व्यक्तिगत बुद्धि (personal intelligence)

जो व्यक्ति किसी दूसरे इंसान की भावनाओं इरादों क्षमता नजरियों को समझता है उसमें यह बुद्धि पाई जाती है इसे हम अंतर व्यक्तिक बुद्धि (inter interpersonal)भी कहते हैं

7अंतः व्यक्तिक बुद्धि (intra personal intelligence)

जो व्यक्ति अपनी भावनाओं रुचि प्रेरणा को समझता है उसमें यह बुद्धि पाई जाती है

8 प्राकृतिक बुद्धि (natural intelligence)

यह बुद्धि गार्डनर के 7 मूल बुद्धि में शामिल नहीं हैं
इसे 1995 में प्रस्तावित किया गया इस बुद्धि के अनुसार जिस व्यक्ति में वनस्पतियों जीव की पहचान पर्यावरण की समझ वायुमंडल उत्पादकता इन सबके पहचानने की क्षमता होती है उसमें प्राकृतिक बुद्धि पाई जाती है

9 अस्तित्व वादी बुद्धि (existential intelligence)
यह बुद्धि 2002 में प्रस्तावित हुई
इस बुद्धि में मानव संसार में छिपे रहस्य को जिंदगी मौत तथा मानव की वास्तविकता को जानने की क्षमता जिस व्यक्ति में होती है अस्तित्व वादी बुद्धि कहलाती है
इस प्रकार की बुद्धि दार्शनिकों में होती है

📘🙏🙏🙏🙏sapna sahu🙏🙏🙏🙏

🏵️🏵️ गार्डनर का बहुबुद्धि सिद्धांत 🏵️🏵️
(Multiple intelligence)
❤️जैविक और सांस्कृतिक अनुसंधानओं की सहायता से समस्या को हल करने की क्षमता बुद्धि कहलाती है।
👉 गार्डनर ने बुद्धि के 9 प्रकार बताए हैं-
🏵️1️⃣ सांगीतिक बुद्धि— (musical intelligence)
▪️ध्वनि, लय, स्वर, संगीत की संवेदनशीलता का ज्ञान होना अनेक प्रकार की ध्वनियों को समझने की क्षमता सांगीतिक बुद्धि कहलाती है।
🏵️2️⃣ तार्किक गणितीय बुद्धि—
(Logical mathematical intelligence )
▪️तर्क लगाना, या किसी भी कार्य के पैटर्न को लगाने की क्षमता, गणितीय सोच इत्यादि तार्किक गणितीय बुद्धि कहलाती है।
🏵️3️⃣ भाषाई बुद्धि— (linguistic intelligence)
▪️भाषा की समझ और भाषा में निपुणता भाषाई बुद्धि है।
🏵️4️⃣ स्थानिक बुद्धि—
(Spatial intelligence)
▪️जो हमारी समस्या है उसको हल करने के लिए मानसिक छवियों को जोड़-तोड़ कर नई छवियां बनाना और किस छवि को समझना स्थानिक बुद्धि है।
🏵️5️⃣ शारीरिक गति संवेदी बुद्धि—
(Physical speed sensative intelligence)
▪️किसी भी शारीरिक क्षमता और मानसिक क्षमता के समन्वय की प्रक्रिया उस बुद्धि के अंतर्गत आते हैं।
🏵️6️⃣ व्यक्तिगत बुद्धि—
(Personal intelligence)
▪️किसी दूसरे इंसान की भावनाओं, इरादों, क्षमता, नजरिया को समझना ही व्यक्तिगत बुद्धि के अंतर्गत आता है।
👉इसे अन्तरवैयक्तिक(interpersonal) बुद्धि भी कहते हैं।
🏵️7️⃣ अंत: वैयक्तिक बुद्धि—
(Intera personal intelligence)
▪️इसमें अपनी भावना, रुचि, प्रेरणा को समझना अंत: वैयक्तिक बुद्धि कहलाती है ये मूल बुद्धि सिद्धांत नहीं है।
🏵️8️⃣ प्राकृतिक बुद्धि—
(Nature intelligence)
👉इसको 1995 में जोड़ा गया।
▪️ वनस्पति, जीव की समज, उत्पादकता, पर्यावरण की समज,आदि प्राकृतिक बुद्धि के अंतर्गत आते हैं इसीलिए इसे प्राकृतिक बुद्धि बुद्धि कहते हैं।
🏵️9️⃣ अस्तित्व वादी बुद्धि—
(Existential intelligence )
👉इसे 2000 में जोड़ा गया।
▪️मानव संसार में छिपे रहस्य को जिंदगी मौत तथा मानव की वास्तविकता को जानने की क्षमता अस्तित्व बादी बुद्धि कहलाती है।
👉 इस बुद्धि के अंतर्गत दार्शनिक लोग आते हैं।
🏵️🏵️ Thank you 🏵️🏵️
🏵️🌸🏵️✍️ Notes by~❤️Vinay Singh Thakur❤️

🤵🏻‍♂गार्डनर का बहुबुद्धि सिद्धांत➖
🌸जैविक और सांस्कृतिक अनुसंधान की सहायता से समस्या को हल करने की क्षमता बुद्धि कहलाती है।

🌸 गार्डनर ने आठ प्रकार के बुद्धि के बारे में बताया है।

🌸 उनके इस सिद्धांत का आधार उनके द्वारा न्यूरोमनोविज्ञान (Neuropsychology) तथा मनोमितिक विधियों (Psychometric methods) के क्षेत्रों में किए गए शोध हैं।

🌀 सांगीतिक बुद्धि( musical Intelligence)➖
👉🏼 इस विधि में ध्वनि ,लय ,स्वर, संगीत की संवेदनशीलता का ज्ञान होता है। इस तरह की बुद्धि(🧑🏻‍🎤) संगीतकार तथा गीतकार में अधिक होती है।

🌀 तार्किक- गणितीय बुद्धि (Logical mathematical Intelligence)➖

👉🏼 इस बुद्धि में तर्क करने की क्षमता, गणितीय समस्याओं का समाधान करने की क्षमता, अंको के क्रम के पीछे छिपे संबंधों को पहचानने की क्षमता, होती है

🌀 भाषायी बुद्धि (Linguistic Intelligence)➖

👉🏼 भाषा की समझ /निपुणता भाषाई आती है।

🌀 स्थानिक बुद्धि (Spatial Intelligence)➖

👉🏼 इसमें स्थानीय चित्रों को मानसिक रूप से परिवर्तन करने की क्षमता तथा स्थानिक कल्पना करने की क्षमता आदि सम्मिलित होती है।

🌀 व्यक्तिगत -आत्मन् बुद्धि (Personal-self Intelligence)➖

👉🏼 इस तरह की बुद्धि में अपने भाव व संदेशों को मॉनिटर करने की क्षमता,उम्र में विभेद करने की क्षमता तथा मानव व्यवहार को निर्देशित करने में उन सूचनाओं को उपयोग करने की क्षमता आदि सम्मिलित होती है।
👉🏼 इसे अंतर वैयक्तिक बुद्धि भी कहा जाता है।

🌀 व्यक्तिगत अन्य बुद्धि (Personal-Others Intelligence)➖

👉🏼 इस तरह की बुद्धि में दूसरे व्यक्तियों की प्रेरणाओं, इच्छाओं एवं आवश्यकताओं को समझने की क्षमता होती है।
👉🏼 इसे अंतर्वैयक्तिक बुद्धि भी कहा जाता है।

🌀 शारीरिक गति सम्वेदी बुद्धि (Physical Speed sensative Intelligence)➖
👉🏼इस तरह की बुद्धि में अपनी शारीरिक गति पर नियंत्रण रखने की क्षमता तथा वस्तुओं को सावधानीपूर्वक एवं प्रवीण ढंग से घुमाने तथा उपयोग करने की क्षमता सम्मिलित होती है।

🌀 प्राकृतिक बुद्धि (Naturalistic Intelligence) ➖
👉🏼 इस बुद्धि शेतात पर व्यक्ति में प्रकृति (Nature) जीव की समझ, उत्पादकता, पर्यावरण की समझ तथा वायु मंडली से हैं।

🌀 अस्तित्व वादी बुद्धि ( Existentialist tic Intelligence)➖

👉🏼 गार्डनर ने बुद्धि के इस प्रकार को सन 2000 के संशोधन में जोड़ा है।
👉🏼 इससे तत्पर मानव संसार के बारे में छिपे रहस्यों की जिंदगी, मौत तथा मानव अनुभूति की वास्तविकता के बारे में उपयुक्त प्रश्न पूछे जाने की क्षमता से होता है।

🖊️🖊️📚📚 Notes by… Sakshi Sharma📚📚🖊️🖊️

👉🏼गार्डनर का बहुबुद्धि सिद्धांत
Multiple intelligence

जैविक तथा सांस्कृतिक अनुसंधानों की सहायता से समस्या को हल करने की क्षमता बुद्धि कहलाती हैं।

गार्डिनर ने बुद्धि का मूल स्वरूप 7 बताया था लेकिन उनमें कुछ खोज प्रक्रिया होने के कारण 1995 ईस्वी में प्राकृतिक बुद्धि और 2000 ईस्वी में अस्तित्ववादी बुद्धि को जोड़ा। इस प्रकार कूल बुद्धि के 9 प्रकार हो गए।

1) संगीतिक बुद्धि (musical intelligence)
संगीत बुद्धि में ध्वनि ,लय, स्वर, संगीत बाकी संवेदनशीलता का ज्ञान होना इत्यादि ये सभी संगीतिक बुद्धि में आते हैं।

तार्किक गणितीय बुद्धि (logical mathematical intelligence e)

किसी भी कार्य में तर्क लगाना या किसी कार्य के पैटर्न लगाने की क्षमता गणितीय सोच इत्यादि आते हैं अपने दैनिक जीवन में कोई भी कार्य क्यों नहीं करें हर एक कार्य में तार्किक गणितीय बुद्धि का उपयोग करते हैं।

भाषाई बुद्धि (languaguisti intelligence)

इनके अंतर्गत भाषा की समझ, भाषा में निपुणता भाषाई बुद्धि है जैसे- इसमें शब्द वाक्य ग्रामर यह सभी आ जाते हैं।

स्थानिक बुद्धि (Spathial inteligencia)

समस्या को हल करने के लिए मानसिक ध्वनियों को जोड़ तोड़ कर नई ध्वनि बनाना और किसी छवि को समझाना स्थानिक बुद्धि है।

शारीरिक गति संवेदी बुद्धि(physical speed sensitive intelligence)

किसी भी शारीरिक क्षमता और मानसिक क्षमता के समन्वय की प्रक्रिया इस बुद्धि के अंतर्गत आते हैं मतलब शारीरिक क्षमता के अनुरूप मानसिक क्षमता भी साथ साथ चलती रहती है।

व्यक्तिगत बुद्धि (personal intelligence)

व्यक्तिक बुद्धि में किसी दूसरे इंसान के भावनाओं इरादों, क्षमता नजरिया को समझने की बात करते हैं तथा इसमें अलग-अलग व्यक्तित्व के बारे में समझ विकसित कहते हैं।

अंतःवैयक्तिक बुद्धि ,( intrapersonal intelligence)

इसमें व्यक्ति खुद की भावना रुचि प्रेरणा इत्यादि को समझते हैं या समझने की कोशिश करते हैं।

प्राकृतिक बुद्धि (natural intelligence )

प्राकृतिक बुद्धि को 1995 में जोड़ा गया है
इससे इंसान में वनस्पति जीव की समाज इत्यादि विकसित होते हैं

उत्पादकता
पर्यावरण की समझ,
वायुमंडल, इन सभी में प्राकृतिक बुद्धि लगते हैं।

अस्तित्ववादी बुद्धि existential intelligence )

अस्तित्व वादी बुद्धि को वर्ष 2000 में मैं इनका निर्माण किया गया था।
इसके अंतर्गत “मानव समाज के छिपे रहस्य को जिंदगी ,मौत तथा मानव की वास्तविकता है इसको जानने की छमता ।जैसी- वह दार्शनिक

🙏Notes by-SRIRAM PANJIYARA 🙏

🔥🔆🔥गार्डनर का बहुबद्धि सिद्धान्त ➖
जैविक और सांस्कृतिक अनुसंधानो की सहायता से समस्या को हल करने की क्षमता बुद्धि कहलाती है |
इसमें हर परिस्थिति में अलग-अलग प्रकार से सोचना और उसी प्रकार से अपनी ज्ञान क्षमता का प्रयोग करना बुद्धि कहलाती है प्रत्येक व्यक्ति मे एक विशिष्ट योग्यता होती है जिसको यह पहचानना आ गया तो वह व्यक्ति हर क्षेत्र मे अच्छा कर सकता है |
1. सागीतिक बुद्धि (Musical intelligence) –
ध्वनि , लय , स्वर , संगीत आदि की संवेदनशील का ज्ञान होना |
इस बुद्धि में ध्वनि लय स्वर आरोही अवरोही इत्यादि बुद्धि संगीतिक बुद्धि कहलाती है |
2.तार्किक गणितीय बुद्धि (Logical mathematical intelligence) –
तर्क लगाना , किसी कार्य के पैटर्न लगाने की क्षमता गणितीय सोच इत्यादि यह अपने तर्क अनुसार बुद्धि का प्रयोग करना तार्किक गणितीय बुद्धि कहलाती है |
3. भाषाई बुद्धि (Languastic intelligence) –
भाषा की समझ / निपुणता भाषाई बुद्धि है | इसमें भाषा की समझ होना और उस भाषा में समाहित या निपुण होना भाषाई बुद्धि कहलाती है |
4. स्थानिक बुद्धि (Spatial Intelligence) –
इस बुद्धि मे समस्या को हल करने के लिए मानसिक छवियो को जोड- तोड कर नई छवि बनाना और किसी छवि को समझना स्थानिक बुद्धि कहलाती है |
5 . शारीरिक गति सम्वेदी बुद्धि (Physical speed sensative intelligence) –
किसी भी शारीरिक क्षमता और मानसिक क्षमता के समन्वय की प्रकिया इस बुद्धि के अंतर्गत आते है |
6. व्यक्तिगत बुद्धि (Personal intelligence) –
किसी दूसरे इंसान के भावनाओं इरादो क्षमता नजरिया को समझना | इसमें दूसरे व्यक्ति के हाव भाव को समझना ये व्यक्तिगत बुद्धि कहलाती है |
ये अन्तवैयक्तिक बुद्धि (Interpersonal) व्यक्तिगत बुद्धि के अंतर्गत आती है | जैसे- डाक्टर , शिक्षक , नेता , मनोवैज्ञानिक |
7. अत: वैयक्तिक बुद्धि (Intra personal intelligence) –
यह बुद्धि अपनी भावना रूचि प्रेरणा को समझना |
इसमें अपनी खुद / स्वंय की अन्तर के वैयक्तिक को समझना |
8.प्राकृतिक बुद्धि (Nature Intelligence) –
इसे 1995 मे प्रस्तावित किया गया | प्राकृतिक बुद्धि के रूप में समझाया जा सकता है |इसमें वनस्पति जीव की समझ उत्पादकता पर्यावरण की समझ वायुमंडल इन सभी को पहचानने में सक्षम है प्राकृतिक दुनिया में अन्य परिणामी भेद करने की क्षमता रखता है | जैसे – किसान जीव वैज्ञानिक खगोलशास्त्री इत्यादि इस प्रकार की बुद्धिमता रखता है |
9. अस्तित्ववादी बुद्धि (Existential Intelligence) –
इस बुद्धि को 2000 में प्रस्तावित किया गया | यह मानव संसार में छिपे रहस्य को जिंदगी मौत तथा मानव की वास्तविकता को जानने की क्षमता ही अस्तित्ववादी बुद्धि कहलाती है |

Notes by ➖ Ranjana Sen

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.