Date-21/05/2021 🏵अभिप्रेरणा के प्रकार🏵

सामान्यतः मनोवैज्ञानिक ने प्रेरणा के दो भागों में बाँटा हैं-

  1. आंतरिक
  2. बाह्य 🍁 आंतरिक अभिप्रेरणा 🍁

👉आंतरिक अभिप्रेरणा में किसी भी अनुक्रिया के लिए बाह्य उद्दीपन की आवश्यकता नहीं होती हैं |
👉 इसमे प्राणी स्वयं की इच्छा से कार्य करता हैं|
👉 इस प्रकार की प्रेरणा स्वयं प्राणी में ही निहित रहती है
👉आंतरिक अभिप्रेरणा से जुड़ी कार्य पर कोई बहाना नही दिया जाता | 🍁 बाह्य अभिप्रेरणा🍁

👉 इस प्रकार की अभिप्रेरणा मे किसी भी अनुक्रिया के लिए बाह्य उद्दीपन की आवश्यकता होती है |
👉प्राणी स्वयं अपनी इच्छा से अनुक्रिया नही करता |
👉 इस प्रकार की अभिप्रेरणा के अंतर्गत प्रसंशा, निंदा, पुरुस्कार, प्रतिद्वंदता, इत्यादि आती है |

🟢 रोबिन्स और होरोक्स के अनुसार-
अधिगम विधि के रूप मे बाह्य अभिप्रेरणा, आंतरिक अभिप्रेरणा से निम्न कोटि का होता है | 🏵मासलो के अनुसार अभिप्रेरणा के प्रकार 🏵

  1. जन्मजात अभिप्रेरणा
  2. अर्जित अभिप्रेरणा
  3. व्यक्तिक अभिप्रेरणा
  4. सामाजिक अभिप्रेरणा 🍁 जन्मजात अभिप्रेरणा🍁

👉ये अभिप्रेरणा जन्म से ही पायी जाती है |
👉इसकी संतुष्टि के अभाव मे प्राणी जीवित ही नही रह सकता है , इसलिए इसे शरीर जनित अभिप्रेरणा या प्राथमिक अभिप्रेरणा कहते है |
👉 इस अभिप्रेरणा मे भूख, प्यास, विश्राम, क्रोध, प्रेम, काम- भावना इत्यादि | 🍁 अर्जित अभिप्रेरणा🍁

👉 इस प्रकार की अभिप्रेरणा व्यक्ति शिक्षा, मानसिक, परिपक्वता एवं वातावरण के संपर्क मे आकर प्राप्त होता है |
👉 इस प्रकार ये जन्म से विद्यमान ना होकर वातावरण के संपर्क मे आने से आती है | 🍁 व्यक्तिक अभिप्रेरणा🍁

👉 इस प्रकार की अभिप्रेरणा व्यक्तिगत अनुभव से प्राप्त होती है |
👉 इसमें व्यक्तिगत विभिन्नताएं पायी जाती हैं |
👉 आदत, आकांक्षा का स्तर, जीवन लक्ष्य, रुचि, मनोवृत्ती और अचेतन अभिप्रेरणा इत्यादि 🍁सामाजिक अभिप्रेरणा🍁

👉 इस प्रकार की अभिप्रेरणा व्यक्ति को सामाजिक व्यवहार करने की प्रेरणा देती है |
👉इसके अंतर्गत सामूहिकता, आत्म-गौरव, अध्यात्मिक, सामाजिक सुरक्षा इत्यादि आती है |

🏵गैरेट के अनुसार अभिप्रेरणा के प्रकार🏵

  1. जैविक अभिप्रेरणा
  2. नोवैज्ञानिक अभिप्रेरणा- जैसे भय, क्रोध ,प्रेम, दुख ,आनंद।
  3. सामाजिक अभिप्रेरणा- जैसे आत्म प्रदर्शन, आत्म सुरक्षा।

🏵 थॉमसन के अनुसार अभिप्रेरणा के प्रकार🏵

1.स्वभाविक अभिप्रेरणा -जैसे खेल, अनुकरण, सुझाव, सुख प्राप्ति।

  1. कृत्रिम अभिप्रेरणा – जैसे प्रशंसा ,पुरस्कार, दंड , सामूहिक कार्य की प्रेरणा। 📝📝 नोट्स बाय निधि तिवारी 🌿🌿

🍀🍀🍀🍀🍀🍀🍀🍀🍀🍀

🌏 अभिप्रेरणा के प्रकार (Types of Motivation) ➖

सामान्यतः मनोवैज्ञानिकों ने अभिप्रेरणा को दो भागों में बांटा है ➖

1) आंतरिक अभिप्रेरणा

2) बाह्य अभिप्रेरणा

🧿 आंतरिक अभिप्रेरणा ➖

आंतरिक अभिप्रेरणा में किसी भी अनुक्रिया के लिए बाहरी उद्दीपन की आवश्यकता नहीं होती है
इसमें प्राणी के स्वयं की प्रेरणा होती है इस प्रकार की प्रेरणा स्वयं प्राणी में ही निहित होती है |
आंतरिक अभिप्रेरणा से जुड़े कार्य पर एक्सक्यूज नहीं दिया जाता है |

🧿 बाह्य अभिप्रेरणा➖

इस प्रकार की अभिप्रेरणा में किसी भी अनुक्रिया के लिए बाहरी उद्दीपन की आवश्यकता होती है |
प्राणी स्वयं अपनी इच्छा से अनुक्रिया नहीं करता है इस प्रकार की अभिप्रेरणा के अंतर्गत प्रशंसा, निंदा ,पुरस्कार, प्रतिद्वंदिता इत्यादि आते हैं |

🥎 राबिन्स और होरोक्स के अनुसार➖

अधिगम विधि के रूप में बाह्य अभिप्रेरणा, आंतरिक प्रक्रिया से निम्न कोटि का होता है |

🛑 मास्लो के अनुसार अभिप्रेरणा के प्रकार➖

मास्लो ने अभिप्रेरणा के चार प्रकार बताए हैं

1) जन्मजात प्रेरणा

2) अर्जित प्रेरणा

3) व्यक्तिगत प्रेरणा

4) सामाजिक प्रेरणा

🧿 जन्मजात प्रेरणा ➖

यह अभिप्रेरणा जन्म से ही पाई जाती है इसकी संतुष्टि के अभाव में प्राढी जीवित नहीं रह सकता है इसलिए इसे शरीर जनित प्रेरणा या प्राथमिक अभिप्रेरणा भी कहते हैं |
इस अभिप्रेरणा में भूख, प्यास, क्रोध, प्रेम काम भावना इत्यादि आते हैं

🧿 अर्जित अभिप्रेरणा➖

इस प्रकार की अभिप्रेरणा व्यक्ति
शिक्षा मानसिक परिपक्वता एवं वातावरण के संपर्क में आकर प्राप्त होता है इस प्रकार जन्म से विद्यमान ना होकर वातावरण के संपर्क में आने से आती है |

🧿 व्यक्तिगत अभिप्रेरणा➖

इस प्रकार की प्रेरणा व्यक्ति के खुद के अनुभव से प्राप्त होती है इसमें व्यक्तिगत विभिन्नता पाई जाती है |
जैसे आदत ,आकांक्षा का स्तर, जीवन का लक्ष्य ,मनोवृति और अचेतन अभिव्यक्ति, रुचि इत्यादि

🧿 सामाजिक अभिप्रेरणा➖

इस प्रकार की अभिप्रेरणा व्यक्ति को सामाजिक व्यवहार करने की प्रेरणा देती है उसके अंतर्गत सामूहिक था आत्म गौरव आध्यात्मिक सामाजिक सुरक्षा आती है |

🥎 गैरेट के अनुसार अभिप्रेरणा के प्रकार➖
गैरेट ने अभिप्रेरणा के तीन प्रकार बताए हैं

1) जैविक अभिप्रेरणा

2) मनोवैज्ञानिक अभिप्रेरणा

3) सामाजिक अभिप्रेरणा

🧿 जैविक अभिप्रेरणा ➖

इस प्रकार की अभिप्रेरणा जो मनुष्य के शारीरिक आवश्यकता से जुड़ी होती है |

🧿 मनोवैज्ञानिक अभिप्रेरणा➖

इस प्रकार की अभिप्रेरणा जो व्यक्ति के आंतरिक गुणों से होती है इसमें व्यक्ति अपने मानसिक चिंतन का प्रयोग करता है जो व्यक्ति की आंतरिक होती है |

🧿 सामाजिक अभिप्रेरणा➖

इस प्रकार की अभिप्रेरणा में व्यक्ति अपने व्यवहार को सामाजिक नियमों के अनुसार करता है समाज के मानदंडों का पालन करता है और अपने व्यवहार को समाज के अनुरूप बनाता है |
अर्थात ऐसी प्रेरणा जो मनुष्य को सामाजिक व्यवहार करने की के लिए प्रेरित करती है |

🥎 थामसन के अनुसार अभिप्रेरणा के प्रकार ➖2

1) स्वाभाविक अभिप्रेरणा

2) कृत्रिम अभिप्रेरणा

नोट्स बाय➖ रश्मि सावले

🍀🌸🌺🌼💐🌺🌻🍀🌸🌺🌻🌼🍀🌸🌺🌼🌻🍀🌸🌺🌻🌼

💤Date-21/05/2021💤
💯Time -8:00@m💯

🔥Topic- Types of motivation🔥
(अभिप्रेरणा के प्रकार)

💨अभिप्रेरणा मुक्ता दो प्रकार की होती हैं, जो निम्नलिखित है
🕳️1 -आंतरिक अभिप्रेरणा (Intransic motivation)
🕳️2- बाह्रय अभिप्रेरणा (Extransic motivation)

💨1- आंतरिक अभिप्रेरणा
(Intransic motivation)
🥀यदि आंतरिक अभिप्रेरणा में किसी भी अनुक्रिया के लिए बाहरी उद्दीपक की आवश्यकता नहीं होती है,
इस प्रकार की प्रेरणा स्वयं प्राणी में ही निहित रहती है।

🥀आंतरिक अभिप्रेरणा से जुड़े कार्यों मे किसी भी प्रकार के बहाने नहीं बनाए जाते हैं बल्कि व्यक्ति स्वयं सक्रिय भागीदारीता के साथ उस कार्य को बेहतर ढंग से करता है।

🐦🐥उदाहरण प्रिया छोटे बच्चे कई बार खुद के मनपसंद खेल खेलने में इतना व्यस्त हो जाते हैं कि भूख लगी होने पर भी वह भोजन की तरफ नहीं बढ़ते हैं;

🥀आंतरिक अभिप्रेरणा व्यक्ति की रुचि को दर्शाती हैं।

🐥🐦उदाहरण -मनपसंद पकवान मिलने पर स्वत: ही खाने लग जाना किंतु किसी अन्य पकवान को पाने के लिए उसकी विशेषता व गुणों का विश्लेषण करके तत्पश्चात को ग्रहण करना।

💨2- बाह्रय अभिप्रेरणा
(Extransic motivation)

🕳️इस प्रकार की अभिप्रेरणा किसी भी अनुक्रिया के लिए बाहरी उत्पन्न की आवश्यकता होती है।
इसमें प्राणी संयम की इच्छा से अनुक्रिया नहीं करता है।

🥀इस प्रकार अकेले रहना के अंतर्गत प्रशंसा ,निंदा, पुरस्कार, दंड प्रतिद्वंदिता इत्यादि चीजें आते हैं।

🥀बाह्रय अभिप्रेरणा मैं व्यक्ति की स्वयं की रुचि ना होकर बाहरी वस्तु या दाता या कार्य की विशेषता या गुण को देखकर उसके प्रति उत्तेजित होकर अनुक्रिया करता है।

🐥🐦Hot उदाहरण-कोरोना काल के समय में व्यक्ति का मास्क लगाना, सैनिटाइजर का प्रयोग करना बाहरी अभिप्रेरणा के कारण ही है।

🐦🐥उदाहरण-बाजार में जाते वक्त अचानक से कुछ मीठे या अन स्वादिष्ट पकवान की सुगंध आने पर व्यक्ति के मुंह में स्वता ही पानी आ जाना व्यक्ति के द्वारा स्वस्थ को प्राप्त करने के लिए उसकी तरफ अग्रसर होना;
🐥🐦ठीक इसी प्रकार कई बार दुर्गंध आने पर व्यक्ति का स्वता ही अपने मुंह को ढक लेना।

🕺🕺रॉबिंस और हो होरोक्स के अनुसार🕺🕺
💨अधिगम विधि के रूप में बाह्रय अभिप्रेरणा, आंतरिक अभिप्रेरणा से निम्न कोटि का होता है।

😇नोट -आंतरिक व बाह्य अभिप्रेरणा परिस्थिति अनुसार परिवर्तित हो जाती है।

🗿मास्लो के अनुसार, अभिप्रेरणा के प्रकार निम्नलिखित है-
🥀मास्लो ने अभिप्रेरणा को चार भागों में विभाजित किया है-
✍️१-जन्मजात प्रेरणा
✍️2-अर्जित प्रेरणा
✍️3-व्यक्तिगत प्रेरणा
✍️4-सामाजिक प्रेरणा

💨1-जन्मजात प्रेरणा-यह अभिप्रेरणा जन्म से ही पाई जाती है, किस-किस की संतुष्टि के अभाव में प्राणी जीवित नहीं रह सकता इसलिए इसे शरीर जनित अभिप्रेरणा या प्राथमिक अभिप्रेरणा कहा जाता है।

✍️अभिप्रेरणा में भूख- प्यास ,विश्राम , निद्रा ,प्रेम प्यार ,काम भावना इत्यादि आते हैं।

💨२-अर्जित प्रेरणा
✍️इस प्रकार की अभिप्रेरणा व्यक्ति शिक्षा मानसिक परिपक्वता एवं वातावरण के संपर्क में आकर ही प्राप्त होता है, अर्थात यह स्वत: ना होकर वातावरण के संपर्क में आने से आती है।

💨3-व्यक्तिगत अभिप्रेरणा
इस प्रकार के अभी प्रेरक व्यक्तिगत अनुभव से प्राप्त होते हैं, इसमें व्यक्तिगत विभिन्नता पाई जाती है, क्योंकि प्रत्येक व्यक्ति की रुचि व उसका व्यक्तित्व एक दूसरे से आपस में भिन्न होता है।

💨4-सामाजिक अभिप्रेरणा
✍️इस प्रकार की अभिप्रेरणा समाज मे कुशल ,सभ्य , सामाजिक व्यवहार करने की प्रेरणा देता है।
इसके अंतर्गत व्यक्ति अपनी सामाजिक अभिप्रेरणा के द्वारा समाज में आत्म गौरव,आत्मसम्मान , प्रतिष्ठा, मान मर्यादा में रहकर प्राप्त करता है साथ ही वह समाज के नियमों का पालन करते हुए सामाजिक नागरिक कहलाता है।

🕺🕺गैरेट के अनुसार अभिक्रिया के प्रकार निम्नलिखित हैं-
गैरेट ने अभिप्रेरणा के के तीन प्रकार बताएं है-
✍️१-जैविक अभिप्रेरणा

✍️२-मनोवैज्ञानिक अभिप्रेरणा

✍️३-सामाजिक अभिप्रेरणा

🐦धन्यवाद 🙏🐥
🐦🐦 हस्तलिखित शिखर पाण्डेय ✍️🐥

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.