🌿🌿🌿🌿🌿🌿🌿🌿🌿SUPERTET BATCH
DATE -20 MAY
🍄 प्रारंभिक शिक्षा के नवीन प्रयास 🍄
20वीं शताब्दी को बालको की शताब्दी कहा जाता है

🏵🏵अखिल भारतीय सर्वेक्षण संस्थान-1978🏵🏵

👉इस सर्वे मे निम्नलिखित बातें सामने आयी-

  1. 9% स्कूल के पास अपना भवन नहीं हैं |
  2. 41% स्कूल मे ब्लैक बोर्ड नहीं हैं |
  3. 72% स्कूल मे पुस्तकालय नहीं हैं |
  4. 89% स्कूल मे शौचालय नहीं हैं |

🍁 राष्ट्रीय शिक्षा नीति 1986🍁

👉लागू-1987 मे लागू किया |

👉ओपरेशन ब्लैक बोर्ड का प्रावधान किया गया |

🍁 प्रारंभिक विद्यालय के लिए न्यूनतम सामग्री होना आवश्यक हैं 🍁

न्यूनतम अध्यापक सामग्री–

  1. पाठ्यपुस्तक
  2. पाठ्यक्रम
  3. अध्यापक
  4. निर्देशिका

खेल सामग्री–

  1. फुटबॉल ⚽
  2. बॉलीबॉल🏀
  3. रस्सी कूदने के लिए

वाद्य यंत्र–

  1. हारमोनियम
  2. तबला

🍁ओपरेशन ब्लैक बोर्ड🍁

➡लागू- 1987 किया गया

➡ धारा – 45 के अंतर्गत 6-14 वर्ष के सभी छात्र- छात्राओ को 10 वर्ष तक अनिवार्य शिक्षा मिले |

➡ यह प्राथमिक विद्यालय के लिए क्लास 1-8 तक के लिए था

🍁🍁 संशोधित राष्ट्रीय शिक्षा नीति (1992)🍁🍁

➡इसमें ओपरेशन ब्लैक बोर्ड को प्राथमिक विद्यालयों से बढ़ाकर उच्च प्राथमिक स्तर तक कर दिया गया

➡ लागू -1992 में किया गया |

➡ बाद मे इसे हर उम्र के हर स्तर की शिक्षा में लागू किया गया |

🍁 राष्ट्रीय साक्षरता मिशन 🍁

➡लागू -1988

➡ किसके द्वारा लागू किया गया- तत्कालीन प्रधानमंत्री- राजीव गांधी द्वारा

➡ प्रौढ़ को प्राथमिक शिक्षा देने के लिए प्रत्येक राज्य की राजधानी में शुरू किया गया

🌿🌿 📝📝Notes BY- निधि तिवारी 🌿🌿

☘☘☘☘☘☘☘☘☘☘

🌏 प्रारंभिक शिक्षा के नवीन प्रयास(New approach of Elementary Education) ➖

🛑 बीसवीं शताब्दी को बालकों की शताब्दी कहा जाता है |

🛑 ऑपरेशन ब्लैक बोर्ड➖

💠 धारा 45 के अंतर्गत सभी छात्र छात्राओं को अगले 10 वर्ष के अंतर्गत अनिवार्य शिक्षा मिले |

💠 अखिल भारतीय सर्वेक्षण संस्थान 1978 ने अपने सर्वे में पाया कि

1) 9% स्कूल के पास अपना स्वयं का भवन नहीं था |

2) 41 % स्कूल में ब्लैक बोर्ड नहीं था |

3) 72% विद्यालय के पास पुस्तकालय नहीं था |

4)1% विद्यालय में शौचालय नहीं था |

इन सभी समस्याओं को देखते हुए ऑपरेशन ब्लैक बोर्ड योजना की शुरुआत की गई |

💠 राष्ट्रीय शिक्षा नीति 1986 में ऑपरेशन ब्लैक बोर्ड का प्रावधान किया गया तथा 1987 में लागू किया गया |
जिसमें कहा गया कि प्राथमिक विद्यालय के लिए न्यूनतम सामग्री होना आवश्यक है |

🧿 न्यूनतम सामग्री ➖

1) अध्यापक सामग्री➖ पाठ्यपुस्तक, पाठ्यक्रम, अध्यापक, और निर्देशिका आदि |

2) खेल सामग्री➖
फुटबॉल ,वॉलीबॉल ,रस्सी और खेल से जुड़ी हुई अन्य सामग्रियां |

3) भवन ➖
दो बड़े कमरे,शौचालय, श्यामपट्ट ,दरी आदि |

4) वाद्य यंत्र ➖
हारमोनियम, तबला आदि |

5) कक्षा शिक्षण सामग्री➖
शैक्षिक चार्ट, मानचित्र, प्रोजेक्ट संबंधी सामग्री आदि |

ऑपरेशन ब्लैक बोर्ड प्राथमिक विद्यालय 1- 8 के विद्यालय के लिए था |

🛑 संशोधित राष्ट्रीय शिक्षा नीति 1992 ➖

ऑपरेशन ब्लैक बोर्ड को प्राथमिक विद्यालय से बढ़ाकर उच्च प्राथमिक स्तर तक कर दिया गया |

बाद में इसे हर कक्षा के लिए कर दिया गया |

1987 ➖ प्राथमिक विद्यालय
1992 ➖ उच्च प्राथमिक विद्यालय
1992 के बाद विश्व विद्यालय स्तर |

🛑 राष्ट्रीय साक्षरता मिशन( 5 मई 1988 ) ➖

इस मिशन के तहत प्रौढ़ को प्राथमिक शिक्षा देने के लिए प्रत्येक राज्य की राजधानी में इसका शुभारंभ किया गया |
तब तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी जी ने इस मिशन का शुभारंभ किया |

नोट्स बाय➖ रश्मि सावले

☘💐🌸🌺🌻🌼☘💐🌸🌺🌼☘💐🌸🌺🌻🌼☘💐🌸🌺🌻🌼

Batch-SuperTet
Date-20/05/2021
Time-7:45@m

🗿Topic-new approach of elementary education
🗿(प्रारंभिक शिक्षा के नवीन प्रयास)

🎉बीसवीं शताब्दी को बालकों की शताब्दी कहा जाता है।

🎊प्रारंभिक शिक्षा के नवीन प्रयास के अंतर्गत देखा गया कि अगर सरकार द्वारा बालों को शिक्षा दी जाती है तो आप ना ही आगे बढ़ पा रहे हैं और ना ही बच्चे पढ़ाई में रुचि दिखा रहे हैं, इसलिए बालकों के लीची का पढ़ाई के प्रति जागरूक करने के लिए सरकार की तरफ से नए नए प्रयास किए गए इसके माध्यम से बालकों वा अभिभावकों को शिक्षा के प्रति जागरूक किया जा सके वा साथ ही बालको की शिक्षा के प्रति रुचि उत्पन्न की जा सके, इसलिए ऐसा कदम उठाया गया।

🎊इन नवीन प्रयासों के अंतर्गत कुछ प्रयास किए गए जिसमें अनेक प्रकार के ऑपरेशन चलाए गए जिनमें मुख्य “आपरेशन ब्लैक बोर्ड”था।

🕳️धारा/अनुच्छेद 45-(निशुल्क एवं अनिवार्य शिक्षा)-इसके अंतर्गत 6 से 14 वर्ष के सभी छात्र छात्राओं को 10 वर्ष के भीतर जब तक वह 14 साल के ना हो जाए तब तक उन्हें निशुल्क एवं अनिवार्य शिक्षा प्रदान की जाए।

🕳️1978 में ऑपरेशन ब्लैक बोर्ड अभियान के तहत”अखिल भारतीय सर्वेक्षण संस्थान”के द्वारा एक सर्वे किया गया।

🕳️इस सर्वे में पाया गया कि अधिकतम विद्यालयों में 9% स्कूलों के पास बच्चों को बैठाने का भवन का निर्माण ही नहीं किया गया (अर्थात शिक्षा देने का उचित स्थान ही निर्धारित नहीं था)

💨41 % विद्यालय में ब्लैक बोर्ड की नहीं था , अर्थात शिक्षा मौखिक रूप से दी जाती रही होगी।

💨72% विद्यालयों में पुस्तकालयों का अभाव था।

💨89 %विद्यालयों में बालक एवं बालिकाओं के शौच के लिए शौचालय की उचित व्यवस्था ही नहीं थी जिसकी वजह से लोग अपनी बेटियों को विद्यालय भेजने से कतराते थे।

💯🔥नोट÷अर्थात उपरोक्त कथनों से यह स्पष्ट होता है कि ऑपरेशन ब्लैक बोर्ड सिर्फ एक अभियान ना होकर शिक्षा के क्षेत्र में स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद शिक्षा के स्तर में इसका उद्देश्य सिर्फ ब्लैकबोर्ड उपस्थित कराना ही नहीं था बल्कि शिक्षा के स्तर को शुरू हुआ सुधार करना भी था वर्षा के साथ लोगों के बीच व समाज में जागरूकता फैलाना नहीं था जिसके द्वारा लोग शिक्षा से जुड़ सके एवं सुशिक्षित , विकासशील राष्ट्र का निर्माण किया जा सके।

🗿new education policy 1986🗿
( राष्ट्रीय शिक्षा नीति 1986)

✍️राष्ट्रीय शिक्षा नीति नीति होती है जिसमें बिना किसी धर्म जाति लिंग आदि के भेदभाव के बिना राष्ट्र राष्ट्र के लोगों को एक मानकर के पूरे राष्ट्र की शैक्षिक गतिविधियों का संचालन वा निर्माण होता है।

💯🔥नोट÷ऑपरेशन ब्लैक बोर्ड कार्यक्रम मुख्यता प्राथमिक विद्यालयों के लिए था। कक्षा (0-5).., या कक्षा (0-8)

✍️इस शिक्षा नीति(1986) के तहत ऑपरेशन ब्लैक बोर्ड का प्रावधान किया गया

✍️इस नीति को लागू-1987 में किया गया।

✍️ऑपरेशन ब्लैक बोर्ड के अंतर्गत या बोला गया कि”प्रत्येक प्राथमिक विद्यालय में अधिगम प्रक्रिया को सुचारू रूप से चलाने के लिए न्यूनतम आखिरी होना आवश्यक है।

✍️न्यूनतम समाधि से तात्पर्य है कि;

👁️अध्यापन सामग्री÷इसके अंतर्गत पाठ्यपुस्तक, पाठ्यक्रम, अध्यापक व निर्देशिका का होना आवश्यक है।

👁️खेल सामग्री÷इसके अंतर्गत फुटबॉल ,वॉलीबॉल वा रस्सी (बालिकाओं के लिए) का होना आवश्यक है ।

👁️भवन निर्माण÷इसके अंतर्गत कम से कम 2 बड़े कमरे होने चाहिए
👁️विद्यालय में एक साफ सुथरा शौचालय होना चाहिए

👁️कक्षा कक्ष में एक श्यामपट्ट अवश्य होना चाहिए

👁️बालक एवं बालिकाओं के बैठने के लिए दरी की व्यवस्था होनी चाहिए।

👁️वाड्य यंत्र कम से कम हारमोनियम एवं तबला अवश्य होना चाहिए।

👁️कक्षा शिक्षण सामग्री
विद्यालय में शैक्षिक चार्ट, ग्लोब वा मानचित्र अवश्य होना चाहिए।

🗿संशोधित राष्ट्रीय शिक्षा नीति 1992🗿
🎉🎉(Programme of action)🎉🎉

✍️इसमें पिछली शिक्षा नीति में लाए गए ऑपरेशन ब्लैक बोर्ड की सफलता को देखकर इस अभियान को प्राथमिक विद्यालय से बढ़ाकर उच्च प्राथमिक स्तर तक कर दिया गया, और धीरे-धीरे जब यह पाया गया कि या अभियान सफल रहा है तो इस ऑपरेशन ब्लैक बोर्ड को शिक्षा के स्तर में लागू कर दिया गया।

✍️ऑपरेशन ब्लैक बोर्ड का संबंध निम्नलिखित विद्यालयों से था; इनमें
🔥 प्राथमिक विद्यालय
🔥माध्यमिक विद्यालय
🔥उच्च माध्यमिक विद्यालय
🔥विश्वविद्यालय इत्यादि।

🗿राष्ट्रीय साक्षरता मिशन🗿

✍️राष्ट्रीय साक्षरता मिशन को 5 मई सन 1988 में लागू किया गया।

✍️इस मिशन की शुरुआत प्रौढ़ को प्राथमिक शिक्षा देने के लिए किया गया प्रयास था।

💯🔥नोट÷
☠️साक्षरता (कम से कम शिक्षित)से तात्पर्य है कि कम से कम कितना पढ़ा हुआ कि समान स्तर पर वह अपना नाम, ग्राम, वादे इत्यादि चीजों को एवं लिख सकें।

☠️शिक्षित (अधिकतम शिक्षित) से तात्पर्य है कि अधिकतम पढ़ा हुआ, अर्थात जिसके द्वारा अन्य व्यक्तियों,वा समाज को साक्षर बना सके साथ ही साथ देश के उत्थान में अपना योगदान दे सकें।

🎉प्रत्येक राज्य की राजधानी में या मिशन शुरू किया गया था।

🎉तात्कालिक प्रधानमंत्री”राजीव गांधी” जी के द्वारा चलाया गया था।

धन्यवाद
💤Presented by -Shikhar pandey💤

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.