क्षतिपूर्ति उपाय या क्षतिपरक उपाय –
जिस क्षेत्र में कोई व्यक्ति कमजोर है उसकी क्षति पूर्ति किसी अन्य क्षेत्र या साधन के माध्यम से करके समायोजित करता है

आक्रामक उपाय-आक्रामक उपाय दो प्रकार के हो सकते हैं प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष
प्रत्यक्ष आक्रामक उपाय-जो ठेस पहुंचाता है उसी पर आक्रामक होकर खुद को संतुष्ट करना

अप्रत्यक्ष आक्रामक उपाय-जो ठेस पहुंचाता है उसका बदला अन्य तरीके से लेकर खुद को संतुष्ट करना

समायोजन के प्रतिमान

सिगमंड फ्रायड के अनुसार

  1. अचेतन मन समायोजन का आधार है
  2. अहम या इगो अवस्था समायोजन का आधार है
  3. लिबिडो समायोजन का आधार है

एडलर के अनुसार
श्रेष्ठता प्राप्ति ही समायोजन का आधार है

युंग के अनुसार
आत्मसिद्धि ही समायोजन का आधार है
दिल या भावनाएं ,दिमाग या विचार में संतुलन बनाना ही आत्मसिद्धि है

स्वप्न या ड्रीम

सिगमंड फ्रायड के अनुसार
स्वप्न अचेतन मन का स्वरूप है

एडलर के अनुसार
स्वप्न चेतन मन का स्वरूप है

यूंग के अनुसार
स्वप्न, चेतन ,अचेतन और अर्द्धचेतन तीनों मन का स्वरूप है

इस पूरे तथ्य में सिगमंड फ्रायड के विचारों को प्रमुखता दी जाती है।

Notes by Ravi kushwah

Date -19/06/2021
Time – 9.00am

क्षतिपूर्ति उपाय – जिस क्षेत्र में कोई व्यक्ति कमजोर है उसकी क्षतिपूर्ति के लिए किसी अन्य क्षेत्रीय साधन के माध्यम से करके समायोजित करता है।

आक्रामक उपाय- यह दो प्रकार के हैं प्रत्यक्ष अप्रत्यक्ष

1- प्रत्यक्ष जो ठेस पहुंचाता है उसी पर आक्रामक होकर खुद को संतुष्ट कर रहा है।
2- अप्रत्यक्ष जो ठेस पहुंचाता है उसका बदला अन्य तरीके से लेकर खुद को संतुष्ट करता है

समायोजन के प्रतिमान
सिगमंड फ्रायड के अनुसार
1.अचेतन मन समायोजन का आधार है
2.ईगो (अहम) अवस्था समायोजन का आधार है।
3.लिबिडो समायोजन का आधार है।

एडलर – श्रेष्ठता प्राप्ति ही समायोजन का आधार है
युंग- आत्मसिद्धि ही समायोजन का आधार है
दिल (भावनाएं) दिमाग (विचार) में संतुलन बनाना ही आत्मसिद्धि है।

स्वप्न( ड्रीम)
सिगमंड फ्रायड- स्वप्न अचेतन मन का स्वरूप है ।

एडलर- स्वप्न चेतन मन का स्वरूप है।

यूंग – स्वप्न चेतन अचेतन और अर्थ चेतन तीनों का स्वरूप है इस पूरे तथ्य में सिगमंड फ्रायड के विचारों को प्रमुखता दी जाती है।

Notes by निधि तिवारी🌿🌿🌿

क्षतिपूर्ति उपाय / क्षतिपरक उपाय ➖

जिस क्षेत्र में कोई व्यक्ति कमजोर है उसकी क्षतिपूर्ति किसी अन्य क्षेत्र या साधन के माध्यम से करके समायोजित करता है |

आक्रामक उपाय ➖

(1) प्रत्यक्ष :- जो ठेस पहुंचाता है उसी पर आक्रमक होकर खुद को संतुष्ट करता है |
(2) अप्रत्यक्ष :- जो ठेस पहुंचाता है उसका बदला अन्य तरीके से लेकर खुद को संतुष्ट करता है |

समायोजन के प्रतिमान ➖

सिगमंड फ्रायड के अनुसार ➖
(1) अचेतन मन समायोजन का आधार है
(2) अहम अवस्था समायोजन का आधार है |
(3) लिबिडो समायोजन का आधार है |

एडलर ➖
श्रेष्ठता प्राप्ति ही समायोजन का आधार है |

युंग ➖
आत्मसिद्धि ही समायोजन का आधार है |
दिल (भावनाएं) , दिमाग (विचार) में संतुलन बनाना ही आत्मसिद्धि है |

स्वप्न (Dream) :-
सिगमंड फ्रायड ➖ स्वप्न अचेतन मन का स्वरुप है |

एडलर ➖
स्वप्न चेतन मन का स्वरूप है |

युंग ➖
स्वप्न , चेतन , अचेतन और अर्द्ध चेतन तीनों का स्वरूप है |
इस पूरे तथ्य को सिगमंड फ्रायड के विचारों को प्रमुखता दी जाती है |
Notes by ➖ Ranjana sen

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.