जीन पियाजे की थ्योरी के कुछ महत्वपूर्ण तथ्य –

(1) अनुकूलन ( Adaptation ) 

पियाजे के अनुसार बच्चों में अपने वातावरण के साथ समायोजन की प्रवृति जन्मजात होती है । बच्चे की इस प्रवृति को अनुकूलन कहा जाता है । पियाजे के अनुसार बालक अपने प्रारभिंक जीवन से ही अनुकूलन करने लगता है । जब कोई बच्चा वातावरण में किसी उद्दीपक परिस्थितियो के समाने होता है तो उस समय उसकी विभिन्न मानसिक क्रियाएं अलग अलग कार्य न करके एक साथ संगंठित होकर कार्य करती हैं और ज्ञान अर्जित करती हैं। यही क्रिया हमेशा मानसिक स्तर पर चलती है। वातावरण के साथ मनुष्य का जो संबंध होता है उस संबंध को संगठन आन्तरिक रूप से प्रभावित करता है जबकि अनुकूलन बाहरी रूप से। पियाजे ने अनुकूलन की प्रक्रिया को अधिक महत्वपूर्ण माना है।

पियाजे ने अनुकूलन की सम्पूर्ण प्रक्रिया को दो उप -प्रक्रियाओं बांटा गया है।

आत्मसात्करण ( Assimilations )

समंजन ( Accommodation  )

(1) आत्मसात्करण ( Assimilations ) एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमें बालक किसी समस्या का समाधान करने के लिए पहले सीखी हुई योजनाओं या मानसिक प्रक्रियाओं का सहारा लेता है । यह एक जैव वैज्ञानिक प्रक्रिया है । 

(2) समंजन ( Accommodation  ) एक ऐसी प्रक्रिया है जो पूर्व में सीखी योजना या मानासिक प्रक्रियाओं से काम न चलने पर समंजन के लिए ही की जाती है । पियाजे कहते हैं कि बालक आत्मसात्करण और सामंजस्य की प्रक्रियाओ के बीच संतुलन कायम करता है । जब बच्चे के सामने कोई नई समस्या होती है, तो उसमें सांज्ञानात्मक असंतुलन उत्पन्न होता है। उस असंतुलन को दूर करने के लिए वह आत्मसात्करण या समंजन या दोनों प्रक्रियाओं को प्रारंभ करता है ।

संज्ञानात्मक संरचना ( Cognitive structure ) : पियाजे के अनुसार संज्ञानात्मक संरचना से तात्पर्य बालक का मानसिक संगठन से है । अर्थात् बुद्धि में संलिप्त विभिन्न क्रियाएं जैसे – प्रत्यक्षीकरण स्मृति, चिन्तन तथा तर्क इत्यादि ये सभी संगठित होकर कार्य करते हैं । वातावरण के साथ सर्मयाजन , संगठन का ही परिणाम है ।

मानसिक संक्रिया ( Mental operation ): बालक द्वारा समस्या – समाधान के लिए किए जाने वाले चिन्तन को ही मानसिक संक्रिया कहते हैं ।

स्कीम्स ( Schemes ) : यह बालक द्वारा समस्या – समाधान के लिए किए गए चिन्तन का आभिव्यकत रूप होता । अर्थात् मानसिक संक्रियाओं का अभिव्यक्त रूप ही स्कीम्स होता है ।

स्कीमा ( Schema ) : एक ऐसी मानसिक संरचना जिसका सामान्यीकरण किया जा सके, स्कीमा होता है ।

Some important facts of Jean Piaget’s theory –

(1) Adaptation

According to Piaget, children have an innate tendency to adjust with their environment. This tendency of the child is called adaptation. According to Piaget, the child begins to adapt from his early life. When a child is exposed to any stimulating situation in the environment, at that time his various mental activities work together and acquire knowledge, not doing separate tasks. This action always goes on at the mental level.The relationship that man has with the environment is influenced by the organization internally while adaptation externally. Piaget considered the process of adaptation to be more important.

Piaget divided the whole process of adaptation into two sub-processes.

  1. Assimilations
  2. Accommodation

(1) Assimilation is a process in which the child uses previously learned plans or mental processes to solve a problem. It is a biological process.

(2) Accommodation is a process that is done only for adjustment when the previously learned plan or mental processes do not work. Piaget says that the child strikes a balance between the processes of assimilation and reconciliation. When a child is faced with a new problem, a cognitive imbalance arises in him. To remove that imbalance, he initiates the process of assimilation or adjustment or both.

Cognitive structure: According to Piaget, cognitive structure refers to the mental organization of the child. That is, the various activities involved in the intellect such as perception, memory, thinking and reasoning, etc., all of them work in concert. Engaging with the environment is the result of the organization itself.

Mental operation: The thinking done by the child to solve the problem is called mental operation.

Schemes: This would have been an expression of the thinking done by the child to solve the problem. That is, the manifestation of mental operations is schemas.

Schema: A mental structure that can be generalized is a schema.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.